श्यामलाल सराफ  

श्यामलाल सराफ (जन्म- 4 जुलाई, 1904, श्रीनगर) एक राजनीतिज्ञ और स्वतंत्रता सेनानी थे। कश्मीरी पंडित नेता श्यामलाल सराफ का कश्मीर की राजनीति में महत्त्वपूर्ण स्थान रहा है।

परिचय

कश्मीरी पंडित नेता श्यामलाल सराफ का जन्म 4 जुलाई, 1904 ई. को श्रीनगर में हुआ था। उन्होंने श्री प्रताप कॉलेज, श्रीनगर से अपनी शिक्षा पूरी की। कॉलेज में शेख़ मोहम्मद अब्दुल्ला उनके सहपाठी थे। सराफ ने कश्मीरी कला वस्तुओं के उत्पादन और बिक्री से सक्रिय जीवन आरम्भ किया और साथ ही सार्वजनिक कार्यों में भाग लेने लगे। उन्होंने 'सनातन धर्म युवक सभा' और हिंदू प्रोग्रेसिव पार्टी' की स्थापना की। 1942 से 1946 तक नेशनल कांफ्रेंस की कार्यसमिति के सदस्य और उस संस्था के कोषाध्यक्ष रहे। कश्मीर के हिंदू राजा के विरुद्ध मुस्लिम बहुमत ने जब आंदोलन आरंभ किया था तो जिन थोड़े से कश्मीरी पंडितों ने उनका साथ दिया, उनमें श्यामलाल सराफ प्रमुख थे।[1]

राजनैतिक जीवन

श्यामलाल सराफ का कश्मीर की राजनीति में मुख्य स्थान था। 1946 में कश्मीर के स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने के कारण उन्हें 7 वर्ष की सजा हुई थी, पर 1947 में वे रिहा हो गए। 1948 में गठित कश्मीर के मंत्रिमंडल में श्याम लाल सराफ अनेक प्रमुख विभागों के मंत्री बने। 1953 में शेख़ अब्दुल्ला को मुख्यमंत्री के पद से हटाने में उनकी मुख्य भूमिका थी। कुल 5 सदस्यीय मंत्रिमंडल में सराफ सहित तीन ने सदरे रियासत कर्ण सिंह के पास शेख़ के प्रति अविश्वास प्रस्ताव भेज दिया था। जब बख्शी गुलाम मोहम्मद कश्मीर के मुख्यमंत्री बने तो उनके मंत्रिमंडल में भी सराफ महत्वपूर्ण मंत्री थे। 1962 में वे कश्मीर से लोकसभा सदस्य बने। जब नेशनल कांफ्रेंस कांग्रेस में सम्मिलित हुई तो श्यामलाल सराफ उसके अध्यक्ष चुने गये थे।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भारतीय चरित कोश |लेखक: लीलाधर शर्मा 'पर्वतीय' |प्रकाशक: शिक्षा भारती, मदरसा रोड, कश्मीरी गेट, दिल्ली |पृष्ठ संख्या: 861 |

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=श्यामलाल_सराफ&oldid=634165" से लिया गया