खूबचंद बघेल  

खूबचंद बघेल
खूबचंद बघेल
पूरा नाम डॉ. खूबचंद बघेल
जन्म 19 जुलाई, 1900
जन्म भूमि ग्राम पथरी, रायपुर, छत्तीसगढ़
मृत्यु 2 फ़रवरी, 1969
मृत्यु स्थान दिल्ली
अभिभावक पिता- जुड़ावन प्रसाद

माता- केकती बाई

पति/पत्नी राजकुँवर
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्धि राजनीतिज्ञ तथा समाज सुधारक
पार्टी काँग्रेस
विद्यालय गवर्नमेंट हाई स्कूल, रायपुर; रॉबर्ट्सन मेडिकल कॉलेज, नागपुर
जेल यात्रा महात्मा गाँधी के आव्हान पर अगस्त 1942 में ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ भारत छोड़ो आंदोलन में सक्रिय योगदान के कारण ढाई साल जेल में रहे।
अन्य जानकारी 1950 में आचार्य कृपलानी के आह्वान पर खूबचंद बघेल 'कृषक मजदूर पार्टी' में शामिल हुए। 1951 के बाद आम चुनाव में वे विधानसभा के लिए पार्टी से निर्वाचित हुए।
खूबचंद बघेल (अंग्रेज़ी: Khubchand Baghel, जन्म- 19 जुलाई, 1900, रायपुर; मृत्यु- 2 फ़रवरी, 1969, दिल्ली) भारतीय स्वतंत्रता संग्राम और छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण आंदोलन के महान नेता और साहित्यकार थे। वह विधायक और राज्य सभा के सांसद भी रहे। डॉ. खूबचंद बघेल का हमेशा से सामाजिक कुरीतियों को देखकर खून खौल उठता था। उन्होंने हमेशा इन बुराइयों को समाज से दूर करने के लिए बहुत सारे प्रयास किये जिसके फलस्वरूप उन्हें अनेकों बार समाज के गुस्से का सामना करना पड़ा। रायपुर तहसील से 1946 के कांग्रेस चुनाव में डॉक्टर बघेल निर्विरोध चुने गए थे। 1946 में उनको तहसील कार्यालय कार्यकारिणी के अध्यक्ष और प्रांतीय कार्यकारिणी के सदस्य के रूप में मनोनीत किया गया था।

परिचय

डॉ. खूबचंद बघेल का जन्म 19 जुलाई सन 1900 को रायपुर जिले के ग्राम पथरी में हुआ था। उनकी प्रारंभिक शिक्षा गांव के ही प्राइमरी स्कूल से हुई। आगे की पढ़ाई रायपुर के गवर्नमेंट हाई स्कूल से पूर्ण हुई। अपनी मैट्रिक की शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने नागपुर के रॉबर्ट्सन मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए दाखिला लिया।

महात्मा गाँधी के आव्हान पर अगस्त 1942 में ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ भारत छोड़ो आंदोलन में सक्रिय योगदान के कारण ढाई साल जेल में रहे। असहयोग आंदोलन के प्रभाव में आकर उन्होंने डॉक्टरी की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी और आंदोलन में शामिल हो गए। घर वालों के बार-बार बोलने और समझने से उन्होंने पुनः एल.एम.पी. (लेजिस्लेटिव मेडिकल प्रक्टिसनर) नागपुर में दाखिला लिया और साल 1923 में एल.एम.पी. की परीक्षा पास की। बाद में एल.एम.पी. को सरकार द्वारा एम.बी.बी.एस. का दर्जा दिया गया।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=खूबचंद_बघेल&oldid=659110" से लिया गया