जतीन्द्रनाथ मुखर्जी  

जतीन्द्रनाथ मुखर्जी
जतीन्द्रनाथ मुखर्जी
पूरा नाम जतीन्द्रनाथ मुखर्जी
अन्य नाम जतीन्द्रनाथ मुखोपाध्याय (बचपन में)
जन्म 7 दिसम्बर, 1879
जन्म भूमि नदिया-कुष्टिया, बंगाल, ब्रिटिश भारत
मृत्यु 10 सितम्बर, 1915
मृत्यु स्थान बालासोर, बंगाल, ब्रिटिश भारत
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्धि क्रांतिकारी
आंदोलन भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन
अन्य जानकारी 27 वर्ष की आयु में एक बार जंगल से गुज़रते हुए जतीन्द्रनाथ मुखर्जी की मुठभेड़ एक बाघ से हो गयी थी। उन्होंने बाघ को अपने हंसिये से मार गिराया। इस घटना के बाद से ही जतीन्द्रनाथ 'बाघा जतीन' के नाम से विख्यात हो गए थे।[1]

जतीन्द्रनाथ मुखर्जी अथवा बाघा जतीन (अंग्रेज़ी: Jatindranath Mukherjee, जन्म- 7 दिसम्बर, 1879; मृत्यु- 10 सितम्बर, 1915) ब्रिटिश शासन के ख़िलाफ़ एक बंगाली क्रांतिकारी थे। इनकी अल्पायु में ही इनके पिता का देहांत हो गया था। इनकी माता ने घर की समस्त ज़िम्मेदारी अपने ऊपर ले ली और उसे बड़ी सावधानीपूर्वक निभाया। जतीन्द्रनाथ मुखर्जी के बचपन का नाम 'जतीन्द्रनाथ मुखोपाध्याय' था। अपनी बहादुरी से एक बाघ को मार देने के कारण ये 'बाघा जतीन' के नाम से भी प्रसिद्ध हो गये थे। जतीन्द्रनाथ ब्रिटिश शासन के विरुद्ध कार्यकारी दार्शनिक क्रान्तिकारी थे। वे 'युगान्तर पार्टी' के मुख्य नेता थे। उस समय युगान्तर पार्टी बंगाल में क्रान्तिकारियों का प्रमुख संगठन थी।

परिचय

जतीन्द्रनाथ मुखर्जी का जन्म ब्रिटिश भारत में बंगाल के जैसोर में सन 7 दिसम्बर 1879 ई. में हुआ था। पाँच वर्ष की अल्पायु में ही उनके पिता का देहावसान हो गया था। माँ ने बड़ी कठिनाईयाँ उठाकर इनका पालन-पोषण किया था। जतीन्द्रनाथ ने 18 वर्ष की आयु में मैट्रिक की परीक्षा पास कर ली और परिवार के जीविकोपार्जन हेतु स्टेनोग्राफ़ी सीखकर 'कलकत्ता विश्वविद्यालय' से जुड़ गए। वह बचपन से ही बड़े बलिष्ठ थे। उनके विषय में एक सत्य बात यह भी है कि 27 वर्ष की आयु में एक बार जंगल से गुज़रते हुए उनकी मुठभेड़ एक बाघ[2] से हो गयी। उन्होंने बाघ को अपने हंसिये से मार गिराया था। इस घटना के बाद जतीन्द्रनाथ बाघा जतीन के नाम से विख्यात हो गए थे।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 1.3 जतीन्द्रनाथ मुखोपाध्याय (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 19 मार्च, 2012।
  2. रॉयल बंगाल टाइगर
  3. कप्तिपोद

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=जतीन्द्रनाथ_मुखर्जी&oldid=614884" से लिया गया