भूलाभाई देसाई  

भूलाभाई देसाई
भूलाभाई देसाई
पूरा नाम भूलाभाई देसाई
जन्म 13 अक्टूबर, 1877
जन्म भूमि सूरत, गुजरात
मृत्यु 6 मई, 1946
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्धि विधिवेत्ता तथा गाँधी जी के सहयोगी
धर्म हिन्दू
जेल यात्रा सन 1930 के 'स्वाधीनता आंदोलन' में भाग लेने के कारण भूलाभाई देसाई को एक वर्ष का कारावास तथा दस हज़ार रुपये जुर्माने का दंड मिला।
विद्यालय एलफिंस्टन तथा सरकारी लॉ कॉलेज, मुम्बई
शिक्षा क़ानून की उच्च शिक्षा
अन्य जानकारी संसदीय नेतृत्व के भूलाभाई देसाई में अनुपम गुण थे। कांग्रेस पार्टी के नेता के रूप में नौकरशाही उनसे सदा आतंकित रहती थी। उनके भाषणों में तथ्यों, तर्कों तथा व्यंग्य विनोदपूर्ण उक्तियों का प्रभावोत्पादक संयोजन रहता था।

भूलाभाई देसाई (अंग्रेज़ी: Bhulabhai Desai , जन्म- 13 अक्टूबर, 1877, सूरत, गुजरात; मृत्यु- 6 मई, 1946) प्रख्यात विधिवेत्ता, प्रमुख संसदीय नेता तथा महात्मा गांधी के विश्वस्त सहयोगी थे। संसदीय नेतृत्व के उनमें अनुपम गुण थे। कांग्रेस पार्टी के नेता के रूप में नौकरशाही उनसे सदा आतंकित रहती थी। 'आज़ाद हिंद फौज' के सेनापति शहनवाज, ढिल्लन तथा सहगल पर राजद्रोह के मुकदमें में सैनिकों का पक्ष-समर्थन भूलाभाई देसाई ने जिस कुशलता तथा योग्यता से किया था, उससे उनकी कीर्ति देश में ही नहीं, विदेश में भी फैल गई थी।

जीवन परिचय

भूलाभाई देसाई का जन्म 13 अक्टूबर सन 1877 को गुजरात के सूरत ज़िले में हुआ था। विधि विशेषज्ञता आपको विरासत में मिली थी। आपके पिता सरकारी वकील थे। प्रत्युत्पन्नमतित्व तथा निर्भीक उक्तियाँ भूलाभाई देसाई की उल्लेख्य विशेषताएँ थीं। बंबई के एलफिंस्टन तथा सरकारी लॉ कॉलेज में भूलाभाई देसाई ने क़ानून की उच्च शिक्षा प्राप्त की। बाद में उच्च न्यायालय के अधिवेत्ता बने। विशिष्ट विधि विशारद होने के कारण आपको अल्पकाल में ही धन तथा यश की प्राप्ति हुई।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 भूलाभाई देसाई (हिन्दी) भारतखोज। अभिगमन तिथि: 19 जुलाई, 2015।
  2. लक्ष्मीशंकर व्यास


और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=भूलाभाई_देसाई&oldid=627525" से लिया गया