बापू बोटो  

बापू बोटो गोवा के रहने वाले थे। इनके पिता का नाम श्री श्रीकृष्ण बोटो था।

  • बापू बोटो स्वतन्त्रता सेनानी थे।
  • 23 मई, 1957 को गोवा की पुलिस ने अपनी हिरासत में रखे एक क्रांतिकारी बापू बोटो को गोली से उड़ा दिया।
  • बापू बोटो को इसलिए गिरफ्तार किया गया था, क्योकि कई तोड़-फोड़ के कार्यों में वह शामिल थे। पुलिस ने उन पर मुकदमा चलाने के बजाय उन्हें समाप्त कर देना ही उचित समझा।[1]



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. बापू बोटो (हिंदी) क्रांति 1857। अभिगमन तिथि: 14 फरवरी, 2017।

संबंधित लेख

"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बापू_बोटो&oldid=585016" से लिया गया