नारायण भाई देसाई  

नारायण भाई देसाई
नारायण देसाई
पूरा नाम नारायण भाई देसाई
जन्म 24 दिसम्बर, 1924
जन्म भूमि सरस गाँव, सूरत ज़िला
मृत्यु 15 मार्च, 2015
मृत्यु स्थान वेदछी गांव, वलसाड़, गुजरात
अभिभावक महादेव हरिभाई देसाई (पिता)
संतान पुत्री- संघमित्रा, पुत्र- नचिकेता देसाई व अफलातून देसाई
नागरिकता भारतीय
भाषा गुजराती, संस्कृत, बांग्ला भाषा, हिन्दी, मराठी और अंग्रेज़ी भाषा
पुरस्कार-उपाधि यूनेस्को शांति पुरस्कार, केंद्रीय साहित्य अकादमी, जमनालाल बजाज, मूर्तिदेवी, उमाशंकर स्नेहरश्मि, रणजीतराम सुवर्ण चंद्रक, नर्मद चंद्रक व दर्शक अवॉर्ड
विशेष योगदान बापू की गोद में नारायण देसाई इस डायरी में उन्होंने गांधीजी के नित्य प्रति के क्रिया कलापों का अधिकारिक वर्णन प्रस्तुत किया है।
संबंधित लेख नारायण भाई देसाई के प्रेरक प्रसंग‎
रचनाएँ 'बापू की गोद में'
बाहरी कड़ियाँ यू ट्यूब पर बापूकथा

नारायण भाई देसाई (अंग्रेज़ी: Narayan Bhai Desai, जन्म- 24 दिसम्बर, 1924; मृत्यु- 15 मार्च, 2015) राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के विश्वसनीय सचिव महादेव हरिभाई देसाई के पुत्र थे।

जीवन परिचय

नारायण भाई देसाई का जन्म सूरत ज़िले के सरस गाँव में हुआ था। इनके पिता महादेव हरिभाई देसाई महात्मा गाँधी के सचिव थे। सर्वोदय जमात को प्रेरित व समृद्ध करने वाले नारायण भाई गुजरात के एक छोटे से गांव में महात्मा गांधी के सचिव महादेव देसाई व दुर्गा बेन के घर जन्म लेकर अब 90 वर्ष के हो गये थे। अपने जीवन के अहम 20 साल उन्होंने महात्मा गांधी के साथ बिताए। वे सर्वोदय विचार तथा अणुविरोधी आंदोलन के सक्रिय कार्यकर्ता रहे। भूदान, ग्रामदान, दंगा शमन के लिए बनी शांति सेना, लोक समिति, सर्वसेवा संघ तथा संपूर्ण क्रांति आंदोलन के वे पहली कतार के अग्रिम कार्यकर्ता रहे। उनका ज्यादा टाइम सर्व सेवा संघ में गुजरा।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=नारायण_भाई_देसाई&oldid=615851" से लिया गया