कूमामोतो  

कूमामोतो जापान के क्यूशू द्वीप के पश्चिम की ओर बहने वाली शीरो नदी के दाहिने किनारे पर समुद्र तट से आठ किलोमीटर दूर स्थित एक नगर है। वह कूमामोतो ज़िला तथा ह्योगो प्रांत की राजधानी है। जापान का यह नगर व्यापार तथा विद्या का केंद्र है।[1]

  • 'मीशूमी' (अंग्रेज़ी: Misumi) पत्तन, जो कूमामोतो एवं आशो ज़िले का द्वार है, इस नगर के निकट ही दक्षिण पश्चिम में स्थित है।
  • यह क्षेत्र रेशमी वस्त्र उद्योग के लिए प्रसिद्ध है तथा समृद्ध हीरो क्षेत्र के चावल का व्यापारिक केंद्र है।
  • जापान के इस नगर में फौजी छावनी भी है। द्वितीय महायुद्ध में यह नगर जलकर नष्ट हो गया था।
  • सन 1952 ई. की भीषण बाढ़ में भी यह क्षतिग्रस्त हुआ था। दोनों बार इस नगर का निर्माण नए ढंग से किया गया।
  • सन 1954 में यहाँ बुद्ध भगवान की स्मृति में ग्रेनाइट पत्थर की एक मीनार का निर्माण किया गया था, जो एशिया में अद्वितीय है।
  • कूमामोतो में 16वीं शताब्दी का एक विशाल दुर्ग है, जो देखने योग्य है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कूमामोतो (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 01 मई, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कूमामोतो&oldid=609746" से लिया गया