जेनोआ  

जेनोआ इटली का मुख्य नगर तथा बंदरगाह है। यह जेनोआ प्रदेश की राजधानी है। यह नगर जेनोआ खाड़ी में ऐसे स्थल पर स्थित है, जो बंदरगाह के लिये बहुत उपयुक्त है।

  • आधुनिक नगर को दो विभागों में बाँटा जा सकता है-
  1. चारों ओर से ऊँची दीवारों से घिरा हुआ प्राचीनतम भाग
  2. नगर का नवीनतम भाग, जो बंदरगाह के पूर्व की ओर पुराने बाँध के पास है
  • जेनोआ नगर की दीवारों में आठ राजद्वार हैं, जिनमें पूर्व के द्वारों में 'पोर्ट पिला'[1] तथा 'पोर्ट रोमन'[2] और पश्चिम के द्वारों में 'पोर्ट लैंटर्न' [3] अथवा लाइट हाउस आकर्षक हैं।[4]
  • कई शताब्दियों से यह इटली के महान् कलाकारों तथा विद्वानों का जन्म स्थान रहा है, जिनमें पूर्व रोमन काल के क्रिस्टोफ़र कोलंबस, देशभक्त मात्सीनि[5] तथा बेला वादक पैगानीनि [6] उल्लेखनीय हैं।
  • आज भी जेनोआ सांस्कृतिक तथा वैज्ञानिक केंद्र बना हुआ है। यहाँ की प्राचीन दर्शनीय वस्तुओं में मध्यकालीन महल तथा काले और श्वेत संगमरमर से बने गिरजाघर प्रमुख हैं।
  • वर्तमान समय में इटली का लगभग 50 प्रतिशत आयात निर्यात इसी बंदरगाह द्वारा संपन्न होता हैं। यहाँ का मुख्य निर्यात, इस्पात, स्वचालित यंत्र, जलपोत तथा वायुयान के इंजन, शीत-ताप-नियंत्रक यंत्र, संगमरमर, काग़ज़, कपड़े, खाद्य पदार्थ, जैतून का तेल, शराब, फल तथा रसायनक हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. Porta Pila
  2. Porta Roamana
  3. Porta Lanterna
  4. जेनोआ (हिन्दी) भारतखोज। अभिगमन तिथि: 18 अगस्त, 2014।
  5. Maxxini
  6. Paganini

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=जेनोआ&oldid=609786" से लिया गया