एगर  

एगर मध्य यूरोप में स्थित दो नगरों का नाम है:- 1.इनमें से एक तो उत्तर-मध्य हंगरी में है। यह एरलौ के नाम से भी प्रसिद्ध है। बुडापेस्ट से 90 मील उत्तर-पूर्व, तिसौ की सहायक एगर नदी के किनारे, अ. 47रू 54व् उ. तथा दे. 20 रू 23 व् पू. पर यह नगर स्थित है। अंगूरों से प्रसिद्ध लाल मदिरा यहाँ बनाई जाती है। आसपास के प्रदेश में यहाँ अंगूर बोए जाते हैं। नगर की उत्पादित वस्तुओं में ऊनी वस्त्र, लिनेन, पाट और सूत मिश्रित कपड़ा, तंबाकू, चमड़े की वस्तुएँ, साबुन तथा मोमबत्तियाँ हैं। नगर की आबादी सन्‌ 1970ई. में 45000 थीं सन्‌ 1569 ई. से लेकर 1687 ई. तक एगर तुर्को के अधीन रहा।[1][2]

2.एगर नाम का दूसरा नगर चेकोस्लोवाकिया के बोहीमिया राज्य में है (स्थिति क 50 डिग्री 23' उ. तथा दे. 13 डिग्री 15' पू.) यह चेक भाषा में चेब भी कहलाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. (2)एगर नाम का दूसरा नगर चेकोस्लोवाकिया के बोहीमिया राज्य में है (स्थिति अ. 50रू 23व् उ. तथा दे. 13रू 15व् पू.) यह चेक भाषा में चेब भी कहलाता है।
  2. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 2 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 234 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=एगर&oldid=632831" से लिया गया