माहेश्वरपुर  

माहेश्वरपुर का उल्लेख हिन्दू पौराणिक महाकाव्य महाभारत में हुआ है। यह एक पवित्र स्थान था।

  • महाभारत वन पर्व के अनुसार इस तीर्थ में स्नान करने से पूर्व जन्म की बातों का स्मरण करने की शक्ति प्राप्त हो जाती है, इसमें संशय नहीं है। माहेश्वरपुर में जाकर भगवान शंकर की पूजा और उपवास करने से मनुष्य सम्पूर्ण मनोवांछित कामनाओं को प्राप्त कर लेता है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=माहेश्वरपुर&oldid=556355" से लिया गया