गंगा सरस्वती संगम  

गंगा सरस्वती संगम हिन्दू पौराणिक ग्रंथ महाभारत के अनुसार प्रयाग में स्थित है। प्रयाग आधुनिक इलाहाबाद का ही प्राचीन नाम है।

  • गंगा और सरस्वती के संगम में स्नान करने से मनुष्य अश्वमेध यज्ञ का फल पाता और स्वर्गलोक में जाता है।
  • इस पवित्र स्थान पर गंगा, यमुना और सरस्वती (पाताल से आने वाली) तीन सरिताओं का संगम हुआ है। किन्तु सरस्वती का कोई बाह्य अस्तित्व दृष्टिगत नहीं है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=गंगा_सरस्वती_संगम&oldid=545994" से लिया गया