शंखकूट  

विष्णु पुराण के अनुसार शंखकूट पर्वत मेरू के उत्तर की ओर स्थित है-

‘शंख्कूटाऽय ऋषभोहंसो नागस्तथापरः कलंजाघाश्चतथा उत्तरे केसराचलः’।[1]


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. विष्णुपुराण 2,2,29

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=शंखकूट&oldid=500244" से लिया गया