नादिरा बेगम  

Disamb2.jpg नादिरा एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- नादिरा (बहुविकल्पी)

नादिरा बेगम मुग़ल बादशाह शाहजहाँ के ज्येष्ठ पुत्र दारा शिकोह की बेगम (पत्नी) थी। राजगद्दी के उत्तराधिकार के युद्ध में शाहजहाँ के पुत्रों के बीच कलह छिड़ चुका था और समस्त मुग़ल साम्राज्य में अराजकता का माहौल व्याप्त था।

  • सिंहासन के उत्तराधिकार के लिए शाहजहाँ के पुत्रों के बीच कई युद्ध लड़े गये।
  • इन युद्धों में सामूगढ़ का युद्ध निर्णायक सिद्ध हुआ, जिसमें दारा शिकोह औरंगज़ेब द्वारा बुरी तरह परास्त हुआ।
  • सामूगढ़ के युद्ध के उपरान्त नादिरा बेगम अपने पति दारा के साथ पलायन कर गई।
  • संकट के इन दिनों में दारा के साथ ही नादिरा बेगम ने पति की तरह समस्त दु:ख एवं कष्ट सहे।
  • अन्तत: इन दारुण दु:खों को और अधिक सहन करने में असमर्थ होकर दादर जाते समय 1659 ई. में नादिरा बेगम की मृत्यु हो गई।
  • नादिरा की मृत्यु से दारा शिकोह को गहरा आघात पहुँचा और वह बुरी तरह से टूट गया।
  • कुछ दिनों बाद ही अपने एक सरदार के विश्वासघात के कारण दारा शिकोह भी औरंगज़ेब के सैनिकों द्वारा पकड़ा गया और उसका सिर काट लिया गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=नादिरा_बेगम&oldid=305443" से लिया गया