Notice: Undefined offset: 0 in /home/bharat/public_html/gitClones/live-development/bootstrapm/Bootstrapmskin.skin.php on line 41
ताजिक (पुस्तक) - भारतकोश, ज्ञान का हिन्दी महासागर

ताजिक (पुस्तक)  

Disamb2.jpg ताजिक एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- ताजिक (बहुविकल्पी)

ताजिक मुग़ल काल में बादशाह अकबर के आदेश पर फ़ारसी भाषा में अनुवादित पुस्तक है।

  • यह पुस्तक किसी ज्योतिष की किताब का अकबर के हुक्म से मुकम्मल ख़ाँ गुजराती द्वारा किया गया फ़ारसी अनुवाद है।
  • ताजिक मध्य एशिया कि फ़ारसी भाषी एक जाति का नाम है। अरबी के लिए भी ताजी शब्द इस्तेमाल होता था।
  • संस्कृत में फलित ज्योतिष की एक ऊँचे दर्जे की पुस्तक 'ताजिक नीलकंठी' है, जिसके कारण बहुत-से लोग ताजिक को फलित-ज्योतिष का पर्याय समझते हैं। शायद वही भाव इस नाम में भी काम कर रहा है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. अकबर |लेखक: राहुल सांकृत्यायन |प्रकाशक: किताब महल, इलाहाबाद |पृष्ठ संख्या: 296 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=ताजिक_(पुस्तक)&oldid=620893" से लिया गया