उस्मान ख़ाँ  

उस्मान ख़ाँ अफ़ग़ानों का एक प्रसिद्ध सरदार था। इसने बंगाल में पठानों को मुग़ल बादशाह जहाँगीर के ख़िलाफ़ भड़काने का कार्य किया, जिसके फलस्वरूप पठानों ने 1612 ई. में जहाँगीर के विरुद्ध विद्रोह खड़ा कर किया।

  • जहाँगीर के शासंनकाल में बंगाल में सूबेदारों के निरन्तर परिवर्तन किये गए।
  • इसी कारण से बंगाल में मुग़ल सम्राट के प्रति असंतोष उत्पन्न हो गया।
  • उस्मान ख़ाँ ने इस असंतोष का पूरा लाभ उठाया।
  • उसने पठानों को एकत्रित किया और जहाँगीर कि ख़िलाफ़ एक ज़बर्दस्त विद्रोह खड़ा कर दिया।
  • मुग़ल फ़ौजों के द्वारा 1612 ई. में वह पराजित हुआ और विद्रोह को दबा दिया गया।
  • मुग़लों से युद्ध करते समय उस्मान ख़ाँ के सिर में एक गम्भीर चोट लगी।
  • इस चोट के कारण उसके सिर में एक बड़ा सा घाव हो गया था।
  • घाव ठीक न हो पाने के परिणामस्वरूप उसकी मौत हो गई।


टीका टिप्पणी और संदर्भ

भारतीय इतिहास कोश |लेखक: सच्चिदानन्द भट्टाचार्य |प्रकाशक: उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान |पृष्ठ संख्या: 62 |


संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=उस्मान_ख़ाँ&oldid=233448" से लिया गया