तर्पी बेग़  

तर्पी बेग़ एक मुग़ल सेनापति था, जिसे 1555 ई. में बैरम ख़ाँ द्वारा दिल्ली की सुरक्षा का भार सौंपा गया था। लेकिन अपने इस कार्य में असफल रहने पर उसका वध कर दिया गया।

  • मुग़ल बादशाह हुमायूँ की मृत्यु 1555 ई. में हो गई थी।
  • हुमायूँ के मरने के तुरन्त बाद ही बैरम ख़ाँ ने तर्पी बेग़ को दिल्ली का भार सौंप दिया।
  • तर्पी बेग़ दिल्ली की सुरक्षा करने में असफल रहा।
  • इसके दुष्परिणाम-स्वरूप 1556 ई. में दिल्ली को हेमू ने विजित कर अपने अधिकार में ले लिया।
  • इस असफलता के कारण बैरम ख़ाँ की आज्ञा से तर्पी बेग़ का वध कर दिया गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=तर्पी_बेग़&oldid=248301" से लिया गया