मदन पुरी  

कॅरियर

मदन जी के पिताजी एक सरकारी अफसर थे। इस लिए उन्होंने युवा मदन को भी सरकारी नौकरी में लगा दिया। अपनी 6 साल की नौकरी के दौरान उनका तबादला शिमला, करांची जैसी जगहों पर होता रहा। ऐसे में एक बार उनका ट्रान्सफर कलकत्ता हुआ। वैसे 1971 में गुजराती सामयिक ‘जी’ को दिये उनके एक इन्टर्व्यु में ये बात भी खुलती है कि वो तबादला मदन जी ने खुद करवाया था, क्योंकि न्यु थियटर्स और कुन्दनलाल सहगल दोनों वहाँ थे। सहगल जैसे सुपर स्टार से मदन पुरी का पारिवारिक संबंध था। वे मदन जी की बुआ के बेटे थे।[1]

निधन

13 जनवरी, 1985 मात्र 69 साल की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से मदन जी की मृत्यु हो गई।

फ़िल्में

मदन पुरी की कुछ फ़िल्मों के नामों का उल्लेख मात्र करके उनके विशाल कार्य फलक की झांखी दिखलाने का प्रयास करते हैं; तब भी कितनी सारी फ़िल्मों का ज़िक्र करना आवश्यक हो जाता है।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 मदनपुरी.... ये आज भी ज़िन्दा ही है! (हिन्दी) tikhaaro.blogspot.in। अभिगमन तिथि: 30 जून, 2017।
  2. उपलब्धियां पर कितनी? – मदन पुरी (हिन्दी) mayapurionline.com। अभिगमन तिथि: 30 जून, 2017।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मदन_पुरी&oldid=600253" से लिया गया