गंग नगाई  

गंग नगाई (अंग्रेज़ी: Gang Ngai) कबुई नागाओं का प्रमुख त्योहार है। मणिपुर में 29 विभिन्न जनजातियाँ निवास करती हैं। यहाँ नागाओं के विभिन्न समूह अपनी संस्कृति और रीति-रिवाजों को विभिन्न त्योहारों के माध्यम से व्यक्त करते हैं। गंग नगाई कबुई नागाओं का प्रमुख त्योहार है। दिसंबर-जनवरी महीने में पांच दिनों तक मनाया जाने वाला गंग नगाई त्योहार राज्य के विविध संप्रदायों के रीति-रिवाजों और धर्मों से परिचित होने का अवसर प्रदान करता है।[1]

  • मणिपुर के कबुई नागा समुदाय अपनी जीवन शैली, संस्कृति और अपने धर्म को व्यक्त करने के इस अवसर का पूरे साल इंतजार करते रहते हैं। वे इस पांच दिवसीय त्योहार में संगीत, नृत्य, दावत का भरपूर आनंद लेते हैं।
  • गंग नगाई त्योहार शगुन समारोह से शुरू होता है। त्योहार के प्रथम दिन कबुई नागा पवित्र अनुष्ठानों के माध्यम से अपने पूर्वजों के प्रति सम्मान व्यक्त करते हैं। इसके बाद चार दिनों तक लगातार उत्सव मनाया जाता है।
  • सामुदायिक दावतें, संगीत और नृत्य प्रदर्शन के विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जो दर्शकों के स्मृति पटल पर लंबे समय तक रहते हैं।
  • मणिपुर में गंग नगाई त्योहार के माध्यम से कबुई नागाओं को अपने धर्म के संरक्षण और सुरक्षा के लिए प्रोत्साहन मिलता है।
  • रंगीन पारंपरिक वेशभूषा में वाद्य यंत्रों की धुनों पर नाचते हुए पुरुषों और महिलाओं से भरी सड़कें मणिपुर में एक सुंदर दृश्य उपस्थित करती हैं।
  • इस त्योहार के अवसर पर दोस्तों और परिवारों के बीच उपहारों का आदान-प्रदान भी किया जाता है।
  • यह त्योहार आमतौर पर दिसंबर-जनवरी महीने में मनाया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. मणिपुर के पर्व–त्योहार (हिंदी) apnimaati.com। अभिगमन तिथि: 28 सितम्बर, 2021।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=गंग_नगाई&oldid=668353" से लिया गया
<