टिटहरी  

टिटहरियाँ

टिटहरी मध्यम आकार के जलचर पक्षी होते हैं, जिनका सिर गोल, गर्दन व चोंच छोटी और पैर लंबे होते हैं। नर अपनी मादा को हवाई करतबों से रिझाता है, जिनमें उड़ान के बीच में द्रुत चढ़ाव, पलटे और चक्कर होते है। यह तेज़ चक्करों, हिचकोलों और लुढ़कन भरी उड़ान है, जिसमें कुछ अंतराल पर पंख फड़फड़ाने की ऊंची ध्वनि दूर तक सुनाई देती है। ये धरती पर मामूली सा खोदकर अथवा थोड़े से कंकरों से घिरे गढ्डे में घोंसला बनाते हैं। इनका प्रजनन मॉनसून के समय मार्च से अगस्त के दौरान होता है। ये सामान्यत: दो से पांच नाशपाती के आकार के (पृष्ठभूमि से बिल्कुल मिलते-जुलते, पत्थर के रंग के हल्के पीले पर स्लेटी-भूरे, गहरे भूरे या बैंगनी धब्बों वाले) अंडे देती हैं।

प्रजातियाँ

दक्षिण एशिया में नौ प्रकार की टिटहरियाँ पाई जाती हैं:

  1. सफ़ेद पूंछ वाली
  2. झुंड में रहने वाली
  3. धूसर रंग के सिर वाली
  4. लाल गलचर्म
  5. पीले गलचर्म
  6. श्रीलंकाई लाल गलचर्म वाली
  7. बर्मा की लाल गलचर्म
  8. उभरे हुए पंख वाली
  9. उत्तरी इलाके की टिटहरी, जिसे पीविट या हरी चिड़िया भी कहते हैं।
टिटहरी

लाल और पीले गलचर्म वाली टिटहरी काफ़ी आम है और बहुतायत में पाई जाती है। लाल गलचर्म वाली टिटहरी की आंखों के आगे लाल मांसल की तह होती है, जबकि पीले रंग की टिटहरी के आंखों के सामने चमकीले पीले रंग की मांसल की तह और काली टोपी होती है। मादा टिटहरियों का क़द नर की तुलना में छोटा और रंग फीका होता है ।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=टिटहरी&oldid=284738" से लिया गया