कोशक महल  

कोशक महल अथवा 'कोषक महल' चंदेरी, मध्य प्रदेश में स्थित है। इस महल को 1445 ई. में मालवा के महमूद ख़िलजी ने बनवाया था।

  • कौशक महल एक प्रभावशाली महल है जो चंदेरी से 4 कि.मी. की दूरी पर स्थित है।
  • इस महल का निर्माण मालवा के सुल्तान महमूद ख़िलजी ने 1445 में करवाया था।
  • कहा जाता है कि सुल्तान इस महल को सात खंड का बनवाना चाहता था, लेकिन मात्र दो खंड का ही बनवा सका।
  • महल के हर खंड में झरोखे, खिड़कियों की कतारें और छत पर की गई शानदार नक्काशियाँ हैं।
  • इसका निर्माण कालपी के युद्ध में महमूद ख़िलजी को मिली जीत की याद में करवाया गया। इस युद्ध में उसने सुल्तान महमूद शकरी को हराया था।
  • कौशक महल एक चौकोर संरचना है, जिसके कमानीदार दरवाज़े प्रभावशाली हैं।
  • महल चार एक समान घरों से बना हुआ है जो एक-दूसरे से बराबर दूरी पर स्थित हैं। कुछ रास्ते और ढंकें हुए गलियारे इन्हें आपस में जोड़ते हैं।
  • अब महल की अधिरचना मौजूद नहीं है, परंतु इसके बचे हुए अवशेषों से इसकी सुंदरता का आकलन किया जा सकता है।
  • कौशक महल का निर्माण स्थानीय सफेद बलुआ पत्थर से किया गया है। महल के चारों मकानों की वास्तुकला और डिज़ाइन समान हैं।
  • अब इस महल में तीन पूरी मंजिलें और अधूरी चौथी मंजिल है।
पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कोशक_महल&oldid=647849" से लिया गया