भूपेंद्र नाथ बोस  

भूपेंद्र नाथ बोस
भूपेंद्र नाथ बोस
पूरा नाम भूपेंद्र नाथ बोस
जन्म 1859
जन्म भूमि बंगाल
मृत्यु 1924
मृत्यु स्थान कोलकाता
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्धि राजनेता
पार्टी कांग्रेस
शिक्षा एम.ए.
विद्यालय प्रेसीडेंसी कॉलेज
अन्य जानकारी भूपेंद्र नाथ बोस 1904 से 1910 तक बंगाल लेजिस्लेचर के सदस्य रहे तथा बंगाल प्रदेश राजनीतिक सम्मेलन की भी उन्होंने अध्यक्षता की।
अद्यतन‎ 04:31, 17 जनवरी-2017 (IST)

भूपेंद्र नाथ बोस (अंग्रेज़ी: Bhupendra Nath Bose, जन्म- 1859, बंगाल; मृत्यु- 1924, कोलकाता) भारतीय राजनीतिज्ञ थे और 1914 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष थे। वे कोलकाता कॉरपोरेशन में म्युनिसिपल कमिश्नर थे।[1]

जन्म एवं परिचय

भूपेंद्र नाथ बोस का जन्म 1859 ई. में कृष्णा नगर बंगाल में हुआ था। उन्होंने प्रेसीडेंसी कॉलेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने एम.ए. और कानून की शिक्षा कोलकाता से पूरी की। आरंभ में भूपेंद्र नाथ ने सार्वजनिक कार्यों में रुचि ली। भूपेंद्र नाथ उदार विचारों के व्यक्ति थे। शिक्षा, नारी उत्थान, अस्पृश्यता निवारण आदि कार्यों में उन्होंने सहयोग दिया। भूपेंद्र नाथ यथासंभव सरकार का समर्थन करने के पक्षपाती थे। साथ ही यह भी कहते थे कि "अनिवार्य होने पर हमें विरोध के लिए भी तत्पर रहना चाहिए।" 1904 से 1910 तक भूपेंद्र नाथ बंगाल लेजिस्लेचर के सदस्य रहे। बंग-भंग के विरोध में जो आंदोलन चला उसके वे समर्थक थे। बंगाल प्रदेश राजनीतिक सम्मेलन की भी उन्होंने अध्यक्षता की।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भारतीय चरित कोश |लेखक: लीलाधर शर्मा 'पर्वतीय' |प्रकाशक: शिक्षा भारती, मदरसा रोड, कश्मीरी गेट, दिल्ली |संकलन: भारतकोश पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 580 |

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=भूपेंद्र_नाथ_बोस&oldid=592838" से लिया गया