जॉर्ज यूल  

जॉर्ज यूल
जॉर्ज यूल
पूरा नाम जॉर्ज यूल
जन्म 1829
जन्म भूमि स्टोनहेवन
मृत्यु 1892
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
पद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के चौथे अध्यक्ष
अन्य जानकारी जॉर्ज यूल भारतीय समाज के बीच अपने विशाल दृष्टिकोण, उदारवादी विचार और भारतीय महत्वाकांक्षाओं के प्रति सम्मान के लिए जाने जाते थे।
अद्यतन‎

जॉर्ज यूल (अंग्रेज़ी: George Yule, जन्म: 1829, स्टोनहेवन; मृत्यु: 1892) इंग्लैंड और भारत में स्कॉटलैंड के एक व्यापारी थे, जिन्होंने 1888 में इलाहाबाद में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के चौथे अध्यक्ष के रूप में कार्य किया था। वह पहले गैर-भारतीय थे, जो उस कार्यालय को आयोजित करते थे। वह लंदन के जॉर्ज यूल एंड कंम्पनी के संस्थापक थे और कलकत्ता के एंड्रयू यूल एंड कंम्पनी, के अध्यक्ष थे।

परिचय

जॉर्ज यूल का जन्म 1829, स्टोनहेवन में हुआ था। वह एक ऐसी शख्सियत थे, जो भारतीयों से अपरिचित नहीं थे और गंभीर रूप से उनके कल्याण और उन्नति में रुचि रखते थे। डब्लू. सी. बनर्जी के आग्रह पर उन्होंने इलाहाबाद में कांग्रेस अधिवेशन की अध्यक्षता स्वीकार की। वह उद्योगपति वर्ग से ताल्लुक रखते थे। वह कलकत्ता की मशहूर एंड्रयू यूल कॉरपोरेशन के मालिक थे। वे कलकत्ता के फौजदार और कुछ समय तक इंडियन चैंबर ऑफ़ कॉमर्स के अध्यक्ष भी रहे।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 2017। जॉर्ज यूल (हिंदी) inc.in/organization।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=जॉर्ज_यूल&oldid=599614" से लिया गया