अहमद पटेल  

अहमद पटेल
अहमद पटेल
पूरा नाम अहमदभाई मोहम्मदभाई पटेल
जन्म 21 अगस्त, 1949
जन्म भूमि भरूच, गुजरात
मृत्यु 25 नवंबर, 2020
मृत्यु स्थान गुरुग्राम, हरियाणा
पति/पत्नी मेमूना पटेल
संतान पुत्र- फैसल, पुत्री- मुमताज
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्धि राजनीतिज्ञ
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
पद कोषाध्यक्ष, ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी
कार्य काल 21 अगस्त, 2018 से 25 नवंबर, 2020
विद्यालय दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय
अन्य जानकारी इंदिरा गांधी की हत्या के बाद 1984 में जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री बने, तब अहमद पटेल को राजीव गांधी ने अपना संसदीय सचिव बना लिया था।
अहमदभाई मोहम्मदभाई पटेल (अंग्रेज़ी: Ahmedbhai Mohammedbhai Patel, जन्म- 21 अगस्त, 1949, भरूच, गुजरात; मृत्यु- 25 नवंबर, 2020, गुरुग्राम, हरियाणा) भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता थे। वह 2001 से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार रहे। 2004 और 2009 में हुए स्थानीय चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन का श्रेय भी काफी हद तक अहमद पटेल ही दिया जाता है। अहमद पटेल कांग्रेस में हमेशा संगठन के आदमी माने गए। वे पहली बार चर्चा में तब आए थे, जब 1985 में राजीव गांधी ने उन्हें ऑस्कर फर्नांडीस और अरुण सिंह के साथ अपना संसदीय सचिव बनाया था। तब इन तीनों को अनौपचारिक चर्चाओं में 'अमर-अकबर-एंथनी' गैंग कहा जाता था। अहमद पटेल के दोस्त, विरोधी और सहकर्मी उन्हें 'अहमद भाई' कहकर पुकारते रहे, लेकिन वे हमेशा सत्ता और प्रचार से खुद को दूर रखना ही पसंद करते थे। सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह और संभवतः प्रणब मुखर्जी के बाद यूपीए के 2004 से 2014 के शासन काल में अहमद पटेल सबसे ताकतवर नेता थे।

परिचय

अहमद पटेल का जन्म 21 अगस्त, 1949 को भरूच, गुजरात में हुआ। उनका विवाह 1976 में मेमूना अहमद से हुआ। इनकी दो संतानों में एक बेटा और एक बेटी है। अहमद पटेल मीडिया के सामने बहुत ही कम आते थे। इन्हें गांधी-नेहरू परिवार के काफी करीब माना जाता था।

राजनीतिक सफ़र

अहमद पटेल ने अपनी राजनीतिक सफर की शुरुआत नगरपालिका के चुनाव से की थी, जिसके बाद आगे पंचायत के सभापति भी बन गए। बाद में उन्होंने कांग्रेस पार्टी में प्रवेश किया और उसके बाद राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष बन गए। इन्दिरा गांधी के आपातकाल के बाद 1977 में आम चुनाव हुए, जिसमें इन्दिरा गांधी की हार हुई। इसी चुनाव में अहमद पटेल की जीत हुई और पहली बार वे लोकसभा में आए। वे तीन बार लोकसभा सांसद (1977, 1980, 1984)और पांच बार राज्यसभा सांसद (1993, 1999, 2005, 2011, 2017) रहे।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. गांधी परिवार के बाद कांग्रेस का सबसे ताक़तवर शख़्स (हिंदी) bbc.com। अभिगमन तिथि: 25 नवंबर, 2020।
  2. मैंने एक वफादार सहयोगी और दोस्त खो दिया (हिंदी) khabar.ndtv.com। अभिगमन तिथि: 25 नवंबर, 2020।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अहमद_पटेल&oldid=652428" से लिया गया
<