गौला नदी  

गौला नदी 'सात ताल झील' से निकलने वाली नदी है। यह शाही, हल्द्वानी और काठगोदाम से होकर प्रवाहित होती है।

  • इस नदी का उद्गम भीडापानी, मोरनौला- शहर फाटक की ऊंची पर्वतमाला के जलस्रोतों से होता है। उसके बाद भीमताल, सात ताल की पहाडियों से आने वाली छोटी नदियों के मिलने से यह हैड़ाखान तक काफ़ी बड़ी नदी बन जाती है।[1]
  • बाद में रानीबाग़, काठगोदाम, हल्द्वानी होते हुए गौला नदी उत्तर प्रदेश में बरेली के पास रामगंगा नदी में मिल जाती है और आगे चलकर पवित्र गंगा में समा जाती है।
  • इस बीच यह नदी क़रीब 500 किलोमीटर की यात्रा तय करती है।
  • जंगलों के लगातार घटने से इस क्षेत्र में वर्षा में कमी आई है, जिससे नदी में भी पानी का स्तर काफ़ी नीचे चला गया है।
  • नदी पर बना 'गौला बांध' पर्यटकों को पिकनिक मनाने के लिए खूब आकर्षित करता है।[2]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कौन समझेगा गोला नदी का दर्द (हिन्दी) हल्द्वानी लाइव। अभिगमन तिथि: 11 जुलाई, 2014।
  2. गौला नदी, काठगोदाम (हिन्दी) नेटिव प्लेनेट। अभिगमन तिथि: 04 जुलाई, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=गौला_नदी&oldid=511049" से लिया गया