मास्ति वेंकटेश अय्यंगार  

मास्ति वेंकटेश अय्यंगार
मास्ति वेंकटेश अय्यंगार
पूरा नाम मास्ति वेंकटेश अय्यंगार
अन्य नाम श्रीनिवास, मास्ति
जन्म 6 जून, 1891
जन्म भूमि मास्ति, कोलार ज़िला (कर्नाटक)
मृत्यु 6 जून, 1986
मृत्यु स्थान मैसूर
कर्म-क्षेत्र लेखक, प्राध्यापक, जिलाधिकारी
मुख्य रचनाएँ चेन्नबसव नायक और चिकवीर राजेन्द्र
भाषा कन्नड़, तमिल
विद्यालय मद्रास विश्वविद्यालय
शिक्षा एम.ए.
पुरस्कार-उपाधि साहित्य अकादमी पुरस्कार, डी. लिट.-कर्नाटक वि.वि., फेलो-साहित्य अकादमी, ज्ञानपीठ पुरस्कार
प्रसिद्धि ख्याति प्राप्त कवि, कहानीकार, उपन्यासकार, नाटककार, अनुवादक और आलोचक
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी मास्ति ने अंग्रेजी में 17 और कन्नड़ में 120 से अधिक पुस्तकें लिखी है।
अद्यतन‎
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

मास्ति वेंकटेश अय्यंगार (अंग्रेज़ी: Masti Venkatesha Iyengar, जन्म: 6 जून, 1891, कोलार ज़िला, कर्नाटक; निधन: 6 जून, 1986) 'कन्नड़ कहानी के प्रवर्तक' और ’कन्नड़ की संपत्ति’ के रूप में ख्याति प्राप्त कवि, कहानीकार, उपन्यासकार, नाटककार, अनुवादक और आलोचक थे। इनके लगभग 15 कहानी संग्रह प्रकाशित हुए थे। मास्ति की शैली को कम से कम शब्दों में एक संपूर्ण अनुभव संप्रेषित करने की विलक्षण क्षमता प्राप्त है। 'नवरात्रि' एवं 'श्रीरामपट्टाभिषेक' उनके दो महत्त्वपूर्ण काव्य हैं।

जन्म तथा शिक्षा

कर्नाटक में कोलार ज़िले के मालूर तालूक के 'मास्ति' नामक ग्राम में मास्ति वेंकटेश अय्यंगार का जन्म हुआ था। 1914 में मास्ति ने मद्रास विश्वविद्यालय से एम.ए. की परीक्षा पास की थी। तदुपरांत मैसूर राज्य की 'सिविल सर्विस परीक्षा' में उत्तीर्ण होकर असिस्टेंट कमिश्नर बने। आप 1930 में जिलाधिकारी भी बने।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 भारत ज्ञानकोश, खण्ड-1 |लेखक: इंदु रामचंदानी |प्रकाशक: एंसाइक्लोपीडिया ब्रिटैनिका प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली और पॉप्युलर प्रकाशन, मुम्बई |संकलन: भारतकोश पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 41 |

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मास्ति_वेंकटेश_अय्यंगार&oldid=531382" से लिया गया