शिवराम कारंत  

शिवराम कारंत
Shivarama-karanth.jpg
पूरा नाम कोटा शिवराम कारंत
जन्म 10 अक्टूबर, 1902
जन्म भूमि कोटा, कर्नाटक
मृत्यु 9 दिसम्बर, 1997
मृत्यु स्थान उडुपी, कर्नाटक
कर्म भूमि कर्नाटक
कर्म-क्षेत्र स्वतंत्र लेखन
मुख्य रचनाएँ 'गर्भगुडि', 'एकांत नाटकगलु', 'मुक्तद्वार', 'चोमन दुड़ि', 'मरलि मण्णिगे', 'बेट्टद जीव' आदि।
भाषा कन्नड़
पुरस्कार-उपाधि डी.लिट., साहित्य अकादमी पुरस्कार (1958), ज्ञानपीठ पुरस्कार (1977), स्वीडिश अकादमी पुरस्कार (1960)
नागरिकता भारतीय
विधा नाटक, उपन्यास, कहानी, आत्मकथा
अन्य जानकारी शिवराम कारंत को देश के प्रतिष्ठित सम्मान 'पद्म भूषण' से भी सम्मानित किया गया था, किंतु उन्होंने आपात काल के दौरान इसे लौटा दिया।
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

कोटा शिवराम कारंत (अंग्रेज़ी: Kota Shivaram Karanth, जन्म- 10 अक्टूबर, 1902, कोटा, कर्नाटक; मृत्यु- 9 दिसम्बर, 1997, उडुपी) कन्नड़ भाषा के विख्यात साहित्यकार थे। अपने कला विषयक ज्ञान के बल पर उन्होंने यक्षगान के अंतरंग में प्रवेश करने का साहस किया। कला विषयक क्षेत्र में शिवराम कारंत का योगदान महत्त्वपूर्ण माना जाता है। उन्होंने अपनी पैनी दृष्टि से बहुत पहले ही भांप लिया था कि वर्तमान शिक्षा प्रणाली में क्या कमी और दोष हैं और फिर अवसर आते ही अपने विचार को व्यावहारिक रूप देने के लिए वह स्वयं पाठ्य पुस्तकें लिखने, शब्दकोशों तथा विश्वकोशों को तैयार करने में जी जान से जुट पड़े थे।

व्यक्तिगत जीवन

कोटा शिवराम कारंत के मन में बचपन से ही प्रकृति के प्रति बहुत आकर्षण था। स्कूल की पढ़ाई ने उन्हें कभी नहीं बांधा। यही कारण था कि 1922 में गांधीजी की पुकार कान में पड़ते ही वह कॉलेज छोड़कर रचनात्मक कार्यक्रम में लग गए। कुछ ही समय के भीतर उन्हें लगा समाज को सुधारने से पहले लोगों की प्रकृति और सारी स्थिति को समझ लेना बहुत आवश्यक है, अत: वहीं से वह एक स्वतंत्र पथ का निर्माण करने में जुट पड़े उन्होंने अपनी पैनी दृष्टि से बहुत पहले ही भांप लिया था कि वर्तमान शिक्षा प्रणाली में क्या कमी और दोष हैं और फिर अवसर आते ही अपने विचार को व्यावहारिक रूप देने के लिए वह स्वयं पाठ्य पुस्तकें लिखने, शब्दकोशों तथा विश्वकोशों को तैयार करने में जी जान से जुट पड़े। शुरुआत उन्होंने कर्नाटक कला से की और फिर वह संपूर्ण विश्वव्यापी कला तक पहुँच गए।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कारंत, शिवराम [जनवरी 1979] (1) मूकज्जी (हिन्दी)। भारतीय ज्ञानपीठ, 223। 81-263-0594-0। अभिगमन तिथि: 30 नवम्बर, 2010

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=शिवराम_कारंत&oldid=608875" से लिया गया