कमल हासन  

कमल हासन
कमल हासन
पूरा नाम कमल हासन
जन्म 7 नवम्बर, 1954
जन्म भूमि परमकुडी, तमिलनाडु
पति/पत्नी वाणी गणपति (तलाकशुदा), सारिका (तलाकशुदा), गौतमी तडीमल्ला
संतान श्रुति हासन और अक्षरा हासन
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र अभिनय
मुख्य फ़िल्में 'एक दूजे के लिए', 'पुष्पक', 'चाची 420', 'हे राम', 'दशावतारम', 'सदमा', 'सागर', 'गिरफ़्तार', 'अप्पू राजा', 'इंडियन' आदि।
पुरस्कार-उपाधि 'राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार' (1982), 'पद्म श्री' (1990), 'साउथ फ़िल्मफेयर अवार्ड', 'नंदी पुरस्कार', 'विजय पुरस्कार' आदि।
प्रसिद्धि हिन्दी तथा तमिल अभिनेता
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी कमल हासन के नाम कुल 15 'साउथ फ़िल्मफेयर अवार्ड' हैं, जो उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए मिले हैं। यह अपने आप में एक कीर्तिमान है।
अद्यतन‎

कमल हासन (अंग्रेज़ी: Kamal Haasan, जन्म- 7 नवंबर 1954, तमिलनाडु) फ़िल्म दुनिया में अपनी अलग ही अदाकारी के लिए मशहूर, दक्षिण भारतीय फ़िल्मों के सबसे ज्यादा अनुभवी अभिनेता की उपाधि से सम्मानित हैं। कमल हासन को दिए गए सम्मानों की सूची बहुत लंबी है। इन्हें पाँच राष्ट्रीय पुरस्कार, 13 दक्षिण भारतीय फ़िल्मफेयर अवॉर्ड, 2 फ़िल्मफेयर अवॉर्ड, तीन नंदी अवॉर्ड, नौ तमिलनाडु स्टेट नेशनल अवॉर्ड आदि प्रदान किए गए हैं। इन सब के अलावा कमल हसन को भारतीय सरकार द्वारा पद्मश्री भी दिया गया है। बॉलीवुड और दक्षिण भारतीय फ़िल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाने के बाद अभिनेता कमल हसन हॉलीवुड में काम करने की तैयारी में हैं। कमल द्वारा निर्मित व निर्देशित फ़िल्म विश्वरूप के साउंड इफेक्ट्स ऐसे हैं जो विश्व में पहली बार इस्तेमाल किये गए हैं।[1]

पिछले चार दशक के लंबे सिने कैरियर में कमल हसन ने कई सुपरहिट फ़िल्मों में अपने दमदार अभिनय से दर्शकों का दिल जीता। बहुमुखी प्रतिभा के धनी कमल हासन ने न केवल अभिनय की प्रतिभा से बल्कि गायकी निर्माण, निर्देशक, पटकथा, लेखक, गीतकार, नृत्य, निर्देशन, पटकथा और गीत लेखन तथा नृत्य निर्देशक से भी सिने प्रेमियों को अपना दीवाना बनाया है। सुपर स्टार बनने तक के उनका सफ़र कभी आसन नहीं रहा। क्षेत्रीय फ़िल्मों के साथ ही हिंदी फ़िल्मों में भी अपने अनोखे विषय और प्रस्तुति ने उन्हें 'महानायक' बना दिया।

परिचय

कमल हसन का जन्म 7 नवंबर, 1954 को तमिलनाडु के 'परमकुडी' में हुआ था। उनके पिता स्वतंत्रता सेनानी और जाने माने वकील थे। उनके पिता चाहते थे कि उनके तीन बच्चों में कम से कम एक बच्चा अभिनेता बने। अपनी इस चाहत को पूरा करने के लिए उन्होंने कमल हसन को अभिनेता बनाने का निश्चय किया।

बाल कलाकार

कमल हासन ने अपने सिने कैरियर की शुरुआत बतौर बाल कलाकार 1960 में प्रदर्शित फ़िल्म 'कलाधुर कमन्ना' से की। जाने माने निर्देशक ए.भीम सिंह के निर्देशन में बनी इस फ़िल्म में उन्होंने अपने दमदार अभिनय से न सिर्फ दर्शकों का दिल जीता, बल्कि वह राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किए गए। फ़िल्म कलाधुर कमन्ना की सफलता के बाद कमल हसन को 'थयइल्ला पिल्लई' (1961), 'पारथल पसी थीरूम' (1962), 'पथा कन्नीकई' और 'वनामबडी' (1963), जैसी फ़िल्मों में बतौर बाल कलाकार अभिनय करने का मौका मिला।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. अभिनेता कमल हसन हॉलीवुड में काम करने की तैयारी में (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  2. कमल हासन : अभिनय के सुनहरे अध्याय (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  3. अभिनय और किरदार के स्टार - कमल हसन (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  4. पहली बार विज्ञापन करेंगे तमिल सुपरस्टार कमल हसन (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  5. 56 के हुए कमल हसन (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  6. 56 वर्ष के हुए कमल हसन (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  7. कमल हासन : अभिनय के सुनहरे अध्याय (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।
  8. कमल हासन : अभिनय के सुनहरे अध्याय (हिंदी)। । अभिगमन तिथि: 11 फरवरी, 2013।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कमल_हासन&oldid=611115" से लिया गया