अजीत  

अजीत
अजीत ख़ान
पूरा नाम हामिद अली ख़ान
प्रसिद्ध नाम अजीत
जन्म 27 जनवरी, 1922
जन्म भूमि गोलकुंडा
मृत्यु 21 अक्टूबर, 1998
मृत्यु स्थान हैदराबाद, आंध्र प्रदेश
अभिभावक पिता- बशीर अली ख़ान
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र हिन्दी सिनेमा
मुख्य फ़िल्में 'कालीचरण', 'मुग़ल-ए-आज़म', 'जंजीर', 'यादों की बारात', 'समझौता', 'कहानी किस्मत की', 'जुगनू', 'शिकारी', 'हिमालय की गोद में' और 'सूरज', आदि।
प्रसिद्धि अभिनेता (विशेषत: खलनायक)
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्ध संवाद 'सारा शहर मुझे लॉयन के नाम से जानता है', 'लिली डोंट बी सिली' और 'मोना डार्लिंग'।
अन्य जानकारी अजीत ने अपना मनपसंद और कभी भुलाया नहीं जा सकने वाला किरदार निर्माता-निर्देशक सुभाष घई कि फ़िल्म 'कालीचरण' में निभाया। फ़िल्म 'कालीचरण' में उनका निभाया किरदार 'लॉयन' तो उनके नाम का पर्याय ही बन गया था।
अद्यतन‎

हामिद अली ख़ान (अंग्रेज़ी: Hamid Ali Khan, जन्म- 27 जनवरी, 1922, गोलकुंडा; मृत्यु- 21 अक्टूबर, 1998, हैदराबाद) भारतीय हिन्दी सिनेमा के प्रसिद्ध अभिनेता थे। उन्होंने हिन्दी सिनेमा में एक खलनायक के रूप में प्रसिद्धि पाई थी। अजीत के पसंद के किरदार की बात की जाये तो उन्होंने सबसे पहले अपना मनपसंद और कभी भुलाया नहीं जा सकने वाला किरदार निर्माता-निर्देशक सुभाष घई की 1976 में प्रदशित फ़िल्म 'कालीचरण' में निभाया। फ़िल्म 'कालीचरण' में उनका निभाया किरदार 'लॉयन' उनके नाम का पर्याय ही बन गया था।

परिचय

हामिद अली ख़ान उर्फ अजीत का जन्म 27 जनवरी, सन 1922 को तत्कालीन हैदराबाद रियासत के गोलकुंडा में हुआ था। अजीत को बचपन से ही अभिनय करने का शौक था। उनके पिता बशीर अली ख़ान हैदराबाद में निज़ाम की सेना में काम करते थे। अजीत ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा आंध्र प्रदेश के वारांगल ज़िले से पूरी की। चालीस के दशक में उन्होंने नायक बनने के लिए फ़िल्म इंडस्ट्री का रूख किया और अपने अभिनय जीवन की शुरूआत वर्ष 1946 में प्रदर्शित फ़िल्म 'शाहे मिस्र' से की।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अजीत&oldid=618786" से लिया गया