खेतड़ी  

खेतड़ी राजस्थान में जयपुर ज़िले के अंतर्गत जयपुर नगर से 80 मील (लगभग 128 कि.मी.) उत्तर में स्थित नगर है। यह नगर चारों तरफ़ से पर्वत द्वारा घिरा हुआ है तथा बहुत ही मनोरम स्थान है। झुंझुनू से 70 कि.मी. की दूरी पर स्थित यह स्थान दिल्ली, जयपुर और झुंझुनू से सड़क मार्ग द्वारा जुड़ा हुआ है। खेतड़ी में भारत का एकमात्र ताँबा उत्पादक संस्थान 'हिन्दुस्तान कॉपर लिमिटेड' है, जिस वजह से भी यह देश में विशेष स्थान रखता है।

ताम्र नगरी

खेतड़ी की स्थिति 280 उत्तरी अक्षांश तथा 750 47’ पूर्वी देशांतर है। यहाँ पर एक क़िला भी है। समीप में ही ताँबे की खदानें हैं, जिनका मुग़ल काल में बड़ा महत्व था। यह प्राचीन शेखावाटी का सबसे बड़ा ठिकाना है और भारत की ताम्र नगरी के नाम से जाना जाता है। यहाँ की ताँबे की खदानें बीच में एकदम बंद पड़ी थीं, लेकिन अब पुन: 'भारतीय ताँबा निगम' की ओर से इन्हें चालू किया गया है और बड़ी मात्रा में ताँबा प्राप्त किया जा रहा है।

दर्शनीय स्थल

अरावली पर्वत शृंखला के गर्भ में क़रीब 75 किलोमीटर लम्बी ताम्र पत्ती के ऊपरी छोर पर खेतड़ी स्थित है, जहाँ देश का एक मात्र ताँबा उत्पादक संस्थान 'हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड' है। खेतड़ी नगर जहाँ ताँबा उपक्रम के कारण देश के कोने-कोने से आए खनन कर्मिकों का निवास स्थल है, वहीं यह क़स्बा अपनी ऐतिहासिक पहचान के कारण भी दर्शनीय है। यहाँ के अन्य दर्शनीय स्थल हैं-

  1. रामकृष्ण मिशन मैथ
  2. भोपालगढ़ का दुर्ग
  3. पन्नालाल शाह का तलब
  4. अजीत सागर बागोर का क़िला
  5. भातियानीजी का मन्दिर

अरावली पर्वत श्रंखला के कारण ऐसा एहसास होता है कि पर्वत श्रंखला ने खेतड़ी को अपनी बाँहों में समेटा हुआ है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=खेतड़ी&oldid=349079" से लिया गया