अमरकूट  

अमरकूट रीवा से 97 मील दूर एक पहाड़ी है जो अमरकंटक का ही एक भाग है।

  • अमरकूट गहन वनों से आच्छादित है।
  • कई विद्वानों का मत है कि मेघदूत[1] में वर्णित आम्रकूट यही है।


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  • ऐतिहासिक स्थानावली | पृष्ठ संख्या= 30| विजयेन्द्र कुमार माथुर | वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग | मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार
  1. मेघदूत 1,16

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अमरकूट&oldid=627242" से लिया गया