बटियागढ़  

बटियागढ़, दमोह ज़िला, मध्य प्रदेश का एक ऐतिहासिक स्थान है। इस स्थान पर विक्रम संवत 1328, 1385 ई. का एक अभिलेख प्राप्त हुआ था,[1] जिसके बारे में विशेष बात यह है कि इसमें मुस्लिमों को शक कहा गया है।

  • इस स्थान से प्राप्त अभिलेख में मुहम्मद तुग़लक़ का उल्लेख है।
  • मुहम्मद तुग़लक़ के समय में सुल्तान की ओर से जुलचीख़ाँ नामक सूबेदार चंदेरी में नियुक्त था और सूवेदार का नायक बटियागढ़ में रहता था। उस समय इस नगर को बटिहाड़िम या बड़िहारिन कहते थे।
  • प्राप्त अभिलेख में दिल्ली का एक नाम 'जोगिनीपुर' भी दिया हुआ है।
  • एक दूसरा शिलालेख विक्रम संवत 1324,1381 ई. का यहाँ के प्राचीन महल के खंडहरों में मिला है, जिसमें गयासुद्दीन तुगलक का उल्लेख है, जिसके सूबेदार ने इस महल को बनवाया था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. एपिग्राफिका इंडिया-12,42

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बटियागढ़&oldid=289531" से लिया गया