आम्र वर्षा  

आम्र वर्षा आम की फ़सल के लिए काफ़ी उपयोगी है।

  • गर्म पवन तथा आद्र समुद्री पवनों के मिलने से यह वर्षा होती है।
  • ग्रीष्म ऋतु में मानसून के आगमन से पूर्व यह वर्षा होती है।
  • यह वर्षा केरल तथा पश्चिम के तटीय मैदानी भागों में होती है।
  • आम की फ़सल के लिए उपयोगी होने के कारण ही इसे आम्र वर्षा कहा जाता है।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=आम्र_वर्षा&oldid=232468" से लिया गया