आम  

आम विषय सूची
आम
आम
जगत पादप (Plantae)
गण सैपिन्डेल्स (Sapindales)
कुल एनाकार्डियेसी (Anacardiaceae)
जाति मैंगिफ़ेरा (Mangifera)
प्रजाति इंडिका (indica)
द्विपद नाम मैंगिफ़ेरा इंडिका (Mangifera indica)
अन्य जानकारी आम भारत का राष्ट्रीय फल है। आम एक गूदे दार फल है, जिसे पकाकर खाया जाता है या कच्‍चा होने पर इसे अचार आदि में इस्‍तेमाल किया जाता है।

आम (अंग्रेज़ी: Mango) फलों का राजा कहलाता है। आम मैंगिफ़ेरा इंडिका भारत का राष्ट्रीय फल है। काजू परिवार (एनाकार्डिएसी) का सदस्य, विश्व के उष्णकटिबंधीय क्षेत्र का एक महत्त्वपूर्ण फल है। ऊष्णकटिबंधीय देशों में आम बड़े पैमाने पर पैदा होते हैं। आम को पूर्वी एशिया, म्यांमार[1] और भारत के असम राज्य का स्थानीय फल माना जाता है। आम एक गूदे दार फल है, जिसे पकाकर खाया जाता है या कच्‍चा होने पर इसे अचार आदि में इस्‍तेमाल किया जाता है। यह मैंगिफ़ेरा इंडिका का फल अर्थात् आम है जो उष्‍ण कटिबंधी हिस्‍से का सबसे अधिक महत्‍वपूर्ण और व्‍यापक रूप से उगाया जाने वाला फल है। फलों का राजा आम के बारे में लोगों की अलग- अलग धारणाएं हैं। कुछ लोगों का मानना है कि इस फल में बेहद कैलरीज होती हैं, तो वहीं कुछ इसे सेहत के लिए कई तरह से फ़ायदेमंद बताते हैं। गर्मियों में यही एक ऐसा फल है, जो रसीला व मीठा है और हर उम्र के लोगों को भाता है। भारत में अन्य प्रकार के आम पाए जाते हैं।

आम का वृक्ष

आम अत्यंत उपयोगी, दीर्घजीवी, सघन तथा विशाल वृक्ष है, जो भारत में दक्षिण में कन्याकुमारी से उत्तर में हिमालय की तराई तक (3000 फुट की ऊँचाई तक) तथा पश्चिम में पंजाब से पूर्व में असम तक, अधिकता से होता है। अनुकूल जलवायु मिलने पर इसका वृक्ष 50 - 60 फुट की ऊँचाई तक पहुँच जाता है। वनस्पति वैज्ञानिक वर्गीकरण के अनुसार आम 'ऐनाकार्डियेसी' कुल का वृक्ष है। आम के कुछ वृक्ष बहुत ही बड़े होते हैं।

आम

डॉक्टर एम.एस.रांधवा (1949) के अनुसार 'बुड़नगांव' (चंडीगढ़) में 'छप्पर' नामक आम के एक वृक्ष के तने का घेरा 32 फुट है, अनेक शाखाएँ पाँच से लेकर 12 फुट तक मोटी और 70 से 80 फुट तक लंबी हैं। छप्पर 2700 वर्ग गज स्थान घेरे हुए है और उसके फल की औसत वार्षिक उपज 450 मन है।

  • आम का वृक्ष एक सदाबहार वृक्ष है।
  • इसकी लंबाई 15-18 मीटर तक होती है और इसकी आयु काफ़ी लंबी होती है।
  • इसके कुंताकार पत्ते 30 सेमी तक लंबे होते हैं; फूल छोटे, गुलाबी और ख़ुशबूदार होते हैं। लंबी डंडियों के छोर पर छोटे गुच्छों में होते हैं।
  • यह उभयलिंगी होते हैं, अर्थात् कुछ में पुंकेसर व स्त्रीकेसर, दोनों होते हैं और कुछ में सिर्फ़ पुंकेसर होते हैं।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=आम&oldid=622503" से लिया गया