सारस्वत  

Disamb2.jpg सारस्वत एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- सारस्वत (बहुविकल्पी)

सारस्वत भारत की पौराणिक नदी सरस्वती के किनारे रहने वालों को कहा जाता है। एक अन्य मान्यता के अनुसार सरस्वती व दधीचि ऋषि से सारस्वत कुल का उत्पन्न होना बताया गया है। सरभ ऋषि की संतान के रूप में भी इनकी प्रसिद्धि है।

  • सारस्वत प्रदेश हस्तिनापुर के पश्चिमोत्तर भाग में स्थित था।
  • इस देश के निवासी ब्राह्मण भी सारस्वत कहे जाते हैं, जो पंचगौड़ ब्राह्मणों की एक शाखा है।
  • पंचगौड़ों में निम्न ब्राह्मण सम्मिलित किये जाते हैं-
  1. गौड़
  2. सारस्वत
  3. कान्यकुब्ज
  4. मैथिल
  5. उत्कल
  • एक कल्प विशेष का नाम भी 'सारस्वत' है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=सारस्वत&oldid=358883" से लिया गया