बगुला  

बगुला

बगुला (अंग्रेज़ी: Herons) पक्षियों की एक प्रजाति है। यह नदियों, झीलों और समुद्रों के किनारे मिलने वाले लम्बी टांगों व गर्दनों वाले चिड़िया का एक कुल है। इस पक्षी की 64 प्रजातियां हैं। बगुला संसार भर में पाया जाता है। एशिया, अफ़्रीका, अमेरिका, यूरोप महाद्वीप पर यह पक्षी मिल जाता है। भारत में भी इस पक्षी की मौजूदगी है। यह बड़ी ही चालाकी से पानी में मछलियों का शिकार करता है। यह पानी में काफ़ी देर तक बिना हिले-डुले सीधा खड़ा रहता है। यही कारण है कि इसे 'ध्यानस्थ योगी' कहा जाता है।

आकार-प्रकार

बगुला बहुत ही चालाक पक्षी है। यह बड़ी ही चालाकी से पानी में मछलियों का शिकार करता है। यह पानी में बिना हिले डुले सीधा खड़ा रहता है। इसकी रेंज में शिकार आने पर यह झपट्टा मारकर उसको निगल जाता है। यह पक्षी उड़ने में भी माहिर है। यह आकाश में 48 किलोमीटर प्रति घण्टा की रफ्तार उड़ता है। बगुला का रंग सफेद, भूरा, नीला, काला होता है। इसकी आंखेंं बहुत तेज होती हैंं। यह रात को भी शिकार कर लेता है। इस पक्षी का आकार 140 सेंटीमीटर के करीब होता है। कुछ प्रजाति इससे आकार में छोटी भी होती हैंं। इनका वजन 3 किलोग्राम तक होता है। इससे कम वजन की प्रजाति भी मिलती है। बगुला की टांगे लम्बी और पतली होती हैंं। इसकी चोंच भी लम्बी है। बगुला की गर्दन भी लम्बी और मुड़ी हुई होती है। इसकी गर्दन S की आकृति में होती है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख


और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बगुला&oldid=641263" से लिया गया