जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर  

जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर

जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर (अंग्रेज़ी: G. Subramania Iyer, जन्म- 19 जनवरी, 1855; मृत्यु- 18 अप्रॅल, 1916) भारत के जानेमाने पत्रकार तथा प्रमुख बुद्धिजीवी थे। वह एक समाज सुधारक भी थे। उन्होंने सामाजिक समानता पर बल दिया तथा स्त्रियों की स्थिति में सुधार पर बल दिया।

  • जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर का जन्म 19 जनवरी सन 1855 में तिरुवायुर में हुआ था। उन्होंने तंजौर में शिक्षा प्राप्त की थी।
  • शिक्षा पूर्ण करने के बाद जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर आंग्ल-वर्नाक्यूलर स्कूल में प्रधानाध्यापक बन गए। इन्होंने आर्य हाईस्कूल की भी स्थापना की।
  • आपने 'हिंदू' तथा 'स्वदेश मित्रम' नामक समाचार पत्र निकाले तथा तमिलनाडु में राष्ट्रीयता की भावना उत्पन्न करने का प्रयत्न किया।
  • उन्होंने भारत से ब्रिटेन में होने वाली धन की निकासी के संबंध में आंकड़े दिए तथा भारत में ब्रिटिश शासन के स्वरूप की आलोचना की।
  • लघु उद्योगों को बढ़ावा दिए जाने के जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर समर्थक थे।
  • वह एक समाज सुधारक भी थे। उन्होंने सामाजिक समानता पर बल दिया तथा स्त्रियों की स्थिति में सुधार पर बल दिया।
  • 18 अप्रॅल, 1916 में 61 वर्ष की आयु में जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर का निधन हो गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=जी._सुब्रह्मण्यम_अय्यर&oldid=634885" से लिया गया