के. वी. के. सुंदरम  

के. वी. के. सुंदरम
के. वी. के. सुंदरम
पूरा नाम कल्याण वैद्यनाथन कुट्टूर सुंदरम
जन्म 11 मई, 1904
जन्म भूमि कुट्टूर, मद्रास (वर्तमान चेन्नई)
मृत्यु 23 सितंबर, 1992
मृत्यु स्थान नई दिल्ली, भारत
पति/पत्नी इंदिरा सुंदरम
संतान विवान सुंदरम
नागरिकता भारतीय
प्रसिद्धि द्वितीय मुख्य निर्वाचन आयुक्त, भारत
कार्य काल मुख्य निर्वाचन आयुक्त-20 दिसंबर, 1958 से 30 सितंबर, 1967
पुरस्कार-उपाधि पद्म विभूषण (1968)
पूर्वाधिकारी सुकुमार सेन
उत्तराधिकारी एस. पी. सेन वर्मा
अन्य जानकारी सन 1958 में कानून सचिव के रूप में कार्यकाल समाप्त होने के बाद के. वी. के. सुंदरम मुख्य चुनाव आयुक्त की स्थिति रखने वाले दूसरे व्यक्ति बने।
कल्याण वैद्यनाथन कुट्टूर सुंदरम (अंग्रेज़ी: Kalyan Vaidyanathan Kuttur Sundaram, जन्म- 11 मई, 1904; मृत्यु- 23 सितंबर, 1992) भारतीय प्रशासनिक अधिकारी थे। वह स्वतंत्र भारत के पहले कानून सचिव (1948-1958) और भारत के दूसरे मुख्य निर्वाचन आयुक्त थे। उन्होंने 1968-1971 की अवधि के लिए भारत के पांचवें कानून आयोग की भी अध्यक्षता की। वह श्वेत पत्र के मुख्य लेखक थे, जिसका उपयोग स्वतंत्रता के बाद भाषाई रेखाओं के साथ खींचे गए राज्यों में भारत के गठन का मार्गदर्शन करने के लिए किया गया था। के. वी. के. सुंदरम को 1968 में दूसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'पद्म विभूषण' से सम्मानित किया गया था।

परिचय

के. वी. के. सुंदरम का जन्म 11 मई, 1904 को तत्कालीन मद्रास प्रेसिडेंसी स्थित एक गांव कुट्टूर में हुआ था। उन्होंने प्रेसिडेंसी कॉलेज और क्राइस्ट चर्च, ऑक्सफोर्ड से शिक्षा प्राप्त की, जिसके बाद 1925 में भारतीय सिविल सेवा (आईसीएस) का प्रशिक्षण के लिए खुद को पंजीकृत किया। उन्होंने दो विवाह किये थे। उनकी पहली पत्नी लक्ष्मी की मृत्यु 1934 में हुई थी। बाद में उन्होंने भारत की ख्यातिप्राप्त कलाकार अमृता शेरगिल की बहन इंदिरा शेरगिल से विवाह किया।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=के._वी._के._सुंदरम&oldid=645020" से लिया गया