मसुलीपट्टम  

मसुलीपट्टम आंध्र प्रदेश में में स्थित एक ऐतिहासिक नगर है। इसका वर्तमान नाम मछलीपटनम है।

  • मसुलीपट्टम का उत्कर्ष 17 वीं शताब्दी में हुआ था।
  • यह गोलकुण्डा का सबसे अच्छा बन्दरगाह माना जाता था।
  • ईस्ट इण्डिया कम्पनी ने 1632 ई. में व्यापार के लिए गोलकुण्डा राज्य से फ़रमान प्राप्त किया।
  • 1686 ई. में इस पर डचों ने अधिकार कर लिया, किंतु 1690 ई. में मद्रास सरकार ने मुग़ल बादशाह से मसुलीपट्टम में पुनः फैक्ट्री खोलने की अनुमति प्राप्त कर ली।
  • 1750 ई. में फ्रांसीसियों ने इस पर अधिकार कर लिया, किंतु 1759 ई. में पुनः यह अंग्रेजों के अधिकार में आ गया।
  • मध्य काल में यहाँ की छींट बहुत प्रसिद्ध थी। यहाँ से मुख्यतः सूती वस्त्र, ग़लीचे एवं धागा निर्यात किया जाता था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मसुलीपट्टम&oldid=266523" से लिया गया