अमलापुरम  

अमलापुरम् आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में सेंट्रल डेल्टा सिस्टम कीे प्रमुख नहर पर, राजमुंद्री से 38 मील दक्षिण पूर्व स्थित, इसी नाम के तालु के का प्रमुख केंद्र है (स्थिति: 16° 34¢ उ.अ., 82° 1¢ पू.दे.)। किंवदंतियों के अनुसार यह नगरी पांडवों के श्वसुर पांचालनरेश की राजधानी थी। सीमांत पर स्थित होने के कारण इसका दूसरा नाम कोण सीमा भी था। यहाँ वेंकटस्वामी तथा सुब्बारायडू (नागराज) के दो प्रसिद्ध हिंदू मंदिर हैं। यहाँ लकड़ी का गोदाम, चावल की मिलें और कपड़ा बुनने, काष्ठशिल्प तथा शीशे एवं चाँदी के बर्तन बनाने के उद्योग हैं। यहाँ ताल्लुके के प्रशासनिक कार्यालय तथा प्रथम श्रेणी का महाविद्यालय भी है। पंचायत नगर का प्रशासन करती है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 1 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 204 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अमलापुरम&oldid=629771" से लिया गया