पर्सी ब्राउन  

पर्सी ब्राउन (अंग्रेज़ी: Percy Brown, जन्म- 1872 ई., मृत्यु- 1955) एक प्रसिद्ध ब्रिटिश विद्वान, कलाकार, कला समीक्षक, इतिहासकार और पुरातत्वविद था। भारतीय वास्तुकला और कला पर एक लेखक के रूप में वह विख्यात है, विशेषकर ग्रीको-बैक्ट्रियन कला पर अपने अध्ययन के लिए वह जाना जाता है।

  • पर्सी ब्राउन ने मुग़ल काल को भारतीय वास्तुकला का ग्रीष्म काल माना है, जो प्रकाश और उर्वरा का प्रतीक माना जाता है।
  • मुग़ल चित्रकला के विषय में पर्सी ब्राउन का कहना था कि- "जहाँगीर के साथ ही मुग़ल चित्रकला की वास्तविक आत्मा पतनोंन्मुख हो गयी।"
  • देवगढ के दशावतार मंदिर के बारे में उसने कहा- "संपूर्ण भवन अपने अंगों के सटीक नियोजन की दृष्टि से, जो सभी व्यवहारिक रूप से उपयोगी होते हुए भी उच्चतम कलात्मक भावना से परिपूर्ण थे, निःसंदेह असाधारण उत्कृष्टता का था।"
पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=पर्सी_ब्राउन&oldid=645820" से लिया गया