डायरेक्‍ट पोस्‍ट  

डायरेक्‍ट पोस्ट भारतीय डाक का एक महत्त्वपूर्ण भाग है। बहुत सारे देशों ने डायरेक्‍ट मार्केटिंग/विज्ञापन मेल की पहचान विकास की उच्‍च क्षमता वाले बिजनेस मेल के एक प्रमुख अंग के रूप में की है। उच्‍च आर्थिक विकास के साथ डायरेक्‍ट मेल का दायरा भारत में भी काफ़ी विकास करेगा। लक्ष्‍य समुदाय के घरों तक बिना पते वाले मेलों की डिलीवरी के लिए डायरेक्‍ट पोस्‍ट के नाम से जाने वाली सेवा को 2 जून, 2005 में शुरू किया गया था। 18 अप्रैल, 2006 से एक नई डायरेक्‍ट मेल मूल्‍य संवर्धित सेवा भी शुरू की गई है, जिसमें बिलों इत्‍यादि जैसे लेन-देन वाले मेलों के साथ विज्ञापन मेल को मिलाने की अनुमति दी गई है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=डायरेक्‍ट_पोस्‍ट&oldid=431644" से लिया गया