बालाजी विश्वनाथ  

बालाजी विश्वनाथ
बालाजी विश्वनाथ, श्रीवर्धन, महाराष्ट्र
पूरा नाम पेशवा बालाजी विश्वनाथ
अन्य नाम बालाजी विश्वनाथ भट
जन्म 1662 ई.
जन्म भूमि श्रीवर्धन, महाराष्ट्र
मृत्यु तिथि 2 अप्रैल[1][2], 1720 ई.
मृत्यु स्थान सास्वड, महाराष्ट्र
पिता/माता विश्वनाथ विसाजी (भट) देशमुख
पति/पत्नी राधाबाई
संतान बाजीराव प्रथम
उपाधि प्रथम पेशवा
धार्मिक मान्यता हिन्दू (ब्राह्मण)
वंश मराठा
मातृभाषा मराठी
अन्य जानकारी ये एक ब्राह्मण परिवार से थे और 18वीं सदी के दौरान मराठा साम्राज्य का प्रभावी नियंत्रण इनके हाथों में आ गया था।

बालाजी विश्वनाथ (अंग्रेज़ी: Balaji Vishwanath, प्रथम पेशवा, जन्म: 1662 ई.; मृत्यु: 2 अप्रैल[1], 1720 ई.), जिनका जन्म एक निर्धन परिवार में हुआ था। शाहू के सेनापति धनाजी जादव ने 1708 ई. में उसे 'कारकून' (राजस्व का क्लर्क) नियुक्त किया था। धनाजी जादव की मृत्यु के उपरान्त वह उसके पुत्र चन्द्रसेन जादव के साथ संयुक्त रहा। चन्द्रसेन जादव ने उसे 1712 ई. में 'सेनाकर्त्ते' (सैन्यभार का संगठनकर्ता) की उपाधि दी। इस प्रकार उसे एक असैनिक शासक तथा सैनिक संगठनकर्ता-दोनों रूपों में अपनी योग्यता प्रदर्शित करने का अवसर मिला। शीघ्र ही शाहू ने उसके द्वारा की गई बहुमूल्य सेवाओं को स्वीकार किया और 16 नवम्बर, 1713 ई. को उसे "पेशवा" (प्रधानमंत्री) नियुक्त किया।

वंश व सेनापति का पद

कोंकण के 'चित्तपावन वंश' का ब्राह्मण बालाजी विश्वनाथ अपनी बुद्धि एवं प्रतिभा के कारण प्रसिद्ध था। बालाजी को करों के बारे में अच्छी जानकरी थी, इसलिए शाहू ने उसे अपनी सेना में लिया था। 1669 से 1702 ई. के मध्य बालाजी विश्वनाथ पूना एवं दौलताबाद का सूबेदार रहा। 1707 ई. में 'खेड़ा के युद्ध' में उसने शाहू को समर्थन देते हुए ताराबाई के सेनापति धनाजी जादव को शाहू की ओर करने का महत्त्वपूर्ण कार्य किया। धनाजी जादव की मृत्योपरान्त उसके पुत्र चन्द्रसेन जादव को शाहू ने सेनापति बनाया। परन्तु उसका ताराबाई के प्रति झुकाव देखकर, उसे सेनापति के पद से हटा दिया, और साथ ही उसने नया सेनापति बालाजी विश्वनाथ को बना दिया।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 Balaji Vishwanath Bhat
  2. 2.0 2.1 इनकी मृत्यु की तिथि निश्चित नहीं है। कहीं-कहीं ये 12 अप्रैल, 1720 भी पाई गई है।
  • भारतीय इतिहास कोश, पृष्ठ- 286

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बालाजी_विश्वनाथ&oldid=621542" से लिया गया