खेड़ा  

खेड़ा को 'कैड़ा' भी कहा जाता है। खेड़ा नगर पूर्व-मध्य गुजरात राज्य पश्चिम भारत साबरमती और माही नदियों के बीच स्थित है।

  • सुनहरी पत्तियों की भूमि कहा जाने वाला गुजरात का खेडा 7194 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है।
  • खेड़ा गुजरात का सबसे बड़ा तम्बाकू उत्पादक है।
  • खेड़ा नगर पांचवीं शताब्दी के अस्तित्व में आता है।
  • 18वीं शताब्दी के आरंभ में खेड़ा बाबी परिवार के नियंत्रण में चला गया, लेकिन 1763 में मराठों ने खेड़ा पर क़ब्ज़ा कर लिया और 1803 में अंग्रेज़ों को सौंप दिया।
  • खेड़ा कृषि उत्पादों का व्यापार केंद्र है और यहाँ कुछ हल्के निर्माण में संलग्न उद्योग स्थापित हैं।
  • खेड़ा नगर एक प्रमुख राजमार्ग और पश्चिमी रेलवे के मार्ग पर अहमदाबाद से 32 किमी दक्षिण पूर्व में स्थित है।
  • जिस क्षेत्र में खेड़ा स्थित है, वह ज़्यादातर अखंडित मैदानी हिस्सा है, जिसकी ढाल दक्षिण-पश्चिम की ओर है और यह साबरमती व माही नदियों द्वारा अपवाहित होता है।
  • खेड़ा नगर की प्रमुख फ़सलों में अनाज, दलहन और कपास शामिल हैं। औद्योगिक गतिविधियों में छपाई, रंगाई, शीशा और सूती वस्त्र निर्माण उल्लेखनीय हैं।
  • खेड़ा को सरकारी दूध उत्पादन केंद्र के रुप में विशेष ख्याति मिली है।
  • खेड़ा नगर क्षेत्र में राजमार्ग और रेलमार्ग तंत्र सुविकसित है।
  • 2001 की जनगणना के अनुसार खेड़ा नगर की जनसंख्या 86,443 है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=खेड़ा&oldid=284807" से लिया गया