डांग  

डांग गुजरात में सापूतारा की पहाड़ियों पर स्थित राज्य का सबसे लोकप्रिय ज़िला और हिल स्टेशन है। अहवा यहाँ का ज़िला मुख्यालय है। 1760 वर्ग कि.मी. के क्षेत्रफल में फैला यह अदिवासी ज़िला प्राकृतिक खूबसूरती से भरपूर है। यहां के टीक के जंगल बेहद खूबसूरत और लोकप्रिय हैं। जंगलों में अनेक जंगली पशुओं ख़ासकर चीता, चीतल, भालू, सूकर, हिरन, सांपों आदि को भी देखा जा सकता है।

भौगोलिक स्थिति

इस ज़िले का क्षेत्रफल 689 वर्ग मील है। यह क्षेत्र पश्चिमी घाट की उत्तरी दिशा में है। इसके उत्तर और पश्चिम में सूरत तथा दक्षिण और पूर्व में नासिक ज़िले हैं। इनका केंद्रीय नगर अहवा है। पर्वतीय सँकरा क्षेत्र होने के कारण यहाँ बाजरा तथा धान उत्पन्न होते हैं। पहले यह गुजरात की छोटी-छोटी देशी रियासतों के समूह में था। 1949 ई. में बंबई राज्य में इसका विलय हुआ और गुजरात राज्य बनने पर यह उसमें सम्मिलित हो पाया। इस ज़िले में 72 प्रतिशत आदिवासी हैं।[1]

दर्शनीय स्थल

गुजरात के इस ज़िले में पर्यटन की दृष्टि से कई महत्त्वपूर्ण स्थल हैं, जैसे-

  1. सापूतारा
  2. गीरा जलप्रपात
  3. गिरमल जलप्रपात
  4. गंधर्वपुरा
  5. वाघई
  6. पूर्णा वन्यजीव अभयारण्य

कैसे पहुँचें

वायु मार्ग - सूरत और मुंबई में डांग का निकटतम हवाईअड्डा है। यह हवाईअड्डा डांग को देश के अनेक शहरों से जोड़ते हैं।

रेल मार्ग - वाघई में डांग ज़िले का नजदीकी रेलवे स्टेशन है। यह रेलवे स्टेशन पश्चिम रेलवे के बिलिमोरा-वाघई नेरो गेज रेललाइन पर स्थित है। नासिक में यहां का अन्य प्रमुख रेलवे स्टेशन है।

सड़क मार्ग - डांग ज़िला सड़क मार्ग द्वारा गुजरात और अन्य पड़ोसी राज्यों के शहरों से जुड़ा है। राज्य परिवहन निगम की नियमित बसें यहां के लिए चलती रहती हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. डांग (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 13 जून, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=डांग&oldid=508942" से लिया गया