शंकर बाल कृष्ण दीक्षित  

शंकर बाल कृष्ण दीक्षित
शंकर बाल कृष्ण दीक्षित
पूरा नाम शंकर बाल कृष्ण दीक्षित
जन्म 24 जुलाई, 1853
मृत्यु 1898
कर्म भूमि भारत
मुख्य रचनाएँ 'भारतीय ज्योतिष शास्त्र'
प्रसिद्धि मराठी ज्योतिषशास्त्री व संस्कृत विद्वान
नागरिकता भारतीय
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

शंकर बाल कृष्ण दीक्षित (जन्म- 24 जुलाई, 1853, मृत्यु- 1898) ज्योतिषशास्त्र के मराठी विद्वान थे। उन्होंने 500 से अधिक संस्कृत ग्रंथों के अध्ययन के बाद 'भारतीय ज्योतिष शास्त्र' नाम के ग्रंथ की रचना की थी।

परिचय

ज्योतिषशास्त्र के मराठी विद्वान शंकर बाल कृष्ण दीक्षित का जन्म 24 जुलाई 1853 ई. को हुआ था। गणित और ज्योतिष में बचपन से ही आपकी रुचि थी। अनेक पश्चिमी विद्वानों ने आपके सहयोग से अपनी पुस्तकें लिखीं। आपने 500 से अधिक संस्कृत ग्रंथों का अध्ययन किया।[1]

सुप्रसिद्ध कृति

शंकर बाल कृष्ण दीक्षित ने ज्योतिष शास्त्र का एक विख्यात ग्रंथ 'भारतीय ज्योतिष शास्त्र' की रचना की थी। इस ग्रंथ की रचना के लिये उन्होंने 500 से अधिक संस्कृत ग्रंथों का अध्ययन किया था। इस ग्रंथ में दीक्षित ने वैदिक काल से लेकर अपने समय तक की ज्योतिष संबंधी सामग्री का समावेश किया है। इस ग्रंथ के द्वारा मराठी भाषा में आर्यभट्ट, वराह मिहिर, ब्रह्मगुप्त, भास्कराचार्य जैसे विद्वानों का परिचय प्राप्त हो सका है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भारतीय चरित कोश |लेखक: लीलाधर शर्मा 'पर्वतीय' |प्रकाशक: शिक्षा भारती, मदरसा रोड, कश्मीरी गेट, दिल्ली |पृष्ठ संख्या: 821 |

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=शंकर_बाल_कृष्ण_दीक्षित&oldid=634017" से लिया गया