अल्तामिरा की गुफ़ा  

अल्तामिरा की गुफ़ा स्पेन में स्थित है। यह ऊपरी पुरातन गुफ़ा है, जिसमें पुरुषों के हाथों और जंगली जानवरों के चित्र बनाए गए हैं। जब 1880 में गुफ़ा के चित्रों पर किये गए शोध को सामने रखा गया तो विशेषज्ञों के द्वारा एक लंबी बहस चलाई गई कि यह पूर्व मनुष्य कला के इस तरह के काम को नहीं कर सकते। अंत में, जब 1902 में पेंटिंग की प्रामाणिकता साबित हुई तो लोगों की पूर्व मनुष्य के प्रति धारणा बदल गयी। ये शहर सांतिया डेल मार्च कान्ताब्रिया स्पेन में स्थित है। अपने गुफ़ा चित्रों सहित यूनेस्को ने इसे 'विश्व विरासत स्थानों' में शामिल कर लिया है।

विशेषताएँ

  • प्रागैतिहासिक काल के मानव द्वारा अंकित सर्वप्रथम चित्र उत्तरी स्पेन में अल्तामिरा गुफ़ा की गीली दीवारों पर हाथ की अंगुलियों द्वारा बनाई गई फीते के समान टेढ़ी-मेढ़ी रेखाएँ हैं।
  • अल्तामिरा की गुफ़ा सेंतेंदर से 31 कि.मी. दूर उत्तरी स्पेन में स्थित है।
  • यहाँ की गुफ़ाएँ सर्वोत्कृष्ट शिल्प का उदाहरण हैं।
  • गुफ़ा की छत कहीं-कहीं 6-7 फीट ऊँची है, अत: छत पर अंकित चित्रों को देखने हेतु भूमि पर लेटना ठीक रहता है। यही कारण है कि इन्हें सर्वप्रथम 'मारिया सातुओला' नामक एक पांच वर्षीय बालिका ने देखी थी।
  • ये गुफ़ा 300 मीटर लंबी है। जिसमें टेड़ा मेड़ा मार्ग और कक्ष हैं।
  • इसका मुख्य मार्ग दो से छह मीटर तक की ऊंचाई का है।
  • इसमें पाए अवशेष प्राचीन पत्थर युग के साथ जुड़े हुए हैं। पूरी गुफ़ा में चित्रकारी की गयी है।
  • इस गुफ़ा को बनाने के लिए चारकोल और हेमटिट का इस्तेमाल किया गया है।
  • गुफ़ा में घोड़ों और बकरियों के चित्र बने हुए हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अल्तामिरा_की_गुफ़ा&oldid=621889" से लिया गया