अगेस्सो हेनरी फ्रांस्वा  

अगेस्सो, हेनरी फ्रांस्वा, द फ्रांस के चांसलर जो लीमोगीज में 27 नवंबर, 1667 को पैदा हुए। फ्रांस्वा ने कानून को शिक्षा जाँ दोमा से ली। 1700 से 1717 तक प्रधान मजिस्ट्रेट (प्रोकरातो) रहे। इसी पद पर रहकर उन्होंने गैलीकन गिरजा के अधिकार की रोम के गिरजाघर के विरुद्ध सहायता की।

1717 में उन्हें चांसलर बनाया गया। परंतु एक वर्ष पश्चात्‌ जाला की आर्थिक नीति का विरोध करने के दंड में उन्हें इस्तीफा देना पड़ा। 1720 में उनको फिर उसी पद पर बिठाया गया। उन्होंने फ्रांस के लिए एक कानून संग्रह तैयार करने का प्रयत्न भी किया। कुछ सुधार करने के कारण उनको फ्रांस के प्रशासकों में सर्वप्रथम स्थान मिला।

फ्रांस्वा के लेखों का एक संग्रह 16 जिल्दों में 1818 में प्रकाशित हुआ। उन्होंने अपने पिता की जीवनी भी लिखी है जिसमें शिक्षा के संबंध में भी बातें लिखी हैं।[1]



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 1 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 73 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अगेस्सो_हेनरी_फ्रांस्वा&oldid=628777" से लिया गया