अंतर्जातीय विवाह  

अंतर्जातीय विवाह दो भिन्न जातियों के स्त्री-पुरुष के बीच होने वाले विवाह को कहते हैं। उदाहरण के लिए, जब ब्राह्मण जाति की एक स्त्री क्षत्रिय जाति के एक पुरुष से विवाह करती है तो इसे अंतर्जातीय विवाह कहते हैं। सामाजिक प्रथाओं के अनुसार अंतर्जातीय विवाह को स्वीकृति नहीं है, परंतु अब शहरी इलाकों में इस प्रथा का पूरी तरह से पालन नहीं किया जाता।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ


वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अंतर्जातीय_विवाह&oldid=545337" से लिया गया