हीरा  

हीरा
Diamond

हीरा (वज्र क्पंउवदक) एक अत्यन्त मूल्यवान खनिज है जो कार्बन का सबसे शुद्ध एवं प्रकृति का सबसे कठोर तत्व माना जाता है। यह कार्बन का अपरूप है। भारत का नाम अत्यन्त प्राचीन काल से ही हीरे के लिए विश्व प्रसिद्ध रहा है। प्राचीन काल में ही गोलकुण्डा की खान से निकाला गया कोहिनूर हीरा सदियों तक आकर्षण का केन्द्र बना रहा।

नव रत्नों में हीरा

नव रत्न में हीरा भी होता है और इसे नौ रत्नों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। हीरा शुक्र ग्रह का रत्न है। हीरा एक प्रकार का बहुमूल्य रत्न है जो बहुत चमकदार और बहुत कठोर होता है। हीरा रत्न अत्यन्त महंगा व दिखने में सुन्दर होता है। यह भी कई रंगों में पाया जाता है, जैसे- सफ़ेद, पीला, गुलाबी, नीला, लाल, काला आदि। सफ़ेद हीरा सर्वोत्तम है और हीरा सभी प्रकार के रत्नों में श्रेष्ठ है। हीरे को हीरे के कणों के द्वारा पॉलिश करके ख़ूबसूरत बनाया जाता है।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हीरा है शुक्र का रत्न (हिन्दी) नवभारत टाइम्स। अभिगमन तिथि: 19 जुलाई, 2010।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=हीरा&oldid=509217" से लिया गया